मिलिए कवि प्रदनया पवार से

Published by
STP Team

मिलिए प्रदनया पवार से – जो एक ख़ास लेखक है. इनकी कविताएँ अन्या जगह में प्रस्तुत की गयीं है. मराठी में यह अपनी कविताएँ लिखती है और फिक्षन की किताबें भी.

दृश्यांचा ढोबळ समुद्र

સ્ત્રી

ही चिडचिड असह्य
झोपेतल्या ग्लानीतही ओळखू यावेत
स्पर्श आवाज आकार
थांग हरवून बसलेला
हा दृश्यांचा ढोबळ समुद्र
डोळ्यांच्या झिलमिल पडद्यावर
याला कितीदा तरंगत ठेवू ?

आकस्मिक
अद्भुत
असाधारण
अपूर्व
गायब झालीय ‘अ’ची बाराखडी…

कबुल,
शाबूत ठेवावा लागतो
ढेर विश्वास
संकल्पनेवरचा, माणसांवरचा,
स्वतःवरचा सुद्धा,
पण मला एकदा तरी
अशी संहिता हवी आहे
जिथे सरकलेला असेल
केंद्रबिंदू फितरतीचा.

आहे का, आणखी एखादा दरवाजा ?
जिवंत मोकाट वाऱ्यासाठी
सताड उघडलेला !

Recent Posts

लैंडस्लाइड में मां बाप और परिवार को खो चुकी इस लड़की ने 12वीं कक्षा में किया टॉप

इसके बाद गोपीका 11वीं कक्षा में अच्छे मार्क्स नहीं ला पाई थी क्योंकि उस समय…

43 mins ago

जिया खान के निधन के 8 साल बाद सीबीआई कोर्ट करेगी पेंडिंग केस की सुनवाई

बॉलीवुड लेट अभिनेता जिया खान के मामले में सीबीआई कोर्ट 8 साल के बाद पेंडिंग…

1 hour ago

दृष्टि धामी के डिजिटल डेब्यू शो द एम्पायर से उनका फर्स्ट लुक हुआ आउट

नेशनल अवॉर्ड-विनिंग डायरेक्टर निखिल आडवाणी द्वारा बनाई गई, हिस्टोरिकल सीरीज ओटीटी पर रिलीज होगी। यह…

2 hours ago

5 बातें जो काश मेरी माँ ने मुझसे कही होती !

बाते जो मेरी माँ ने मुझसे कही होती : माँ -बेटी का रिश्ता, दुनिया के…

3 hours ago

पूजा हेगड़े ने किया करीना को सपोर्ट सीता के रोल के लिए, कहा करीना लायक हैं

पूजा हेगड़े ने कहा कि करीना ने वही माँगा है जो वो डिज़र्व करती हैं।…

3 hours ago

This website uses cookies.