जर्नलिस्ट शिरीन अबू की मौत से जुड़ी 10 जरुरी बातें

जर्नलिस्ट शिरीन अबू की मौत से जुड़ी 10 जरुरी बातें जर्नलिस्ट शिरीन अबू की मौत से जुड़ी 10 जरुरी बातें

Swati Bundela

11 May 2022

1. पैलेस्टाइन की हेल्थ मिनिस्ट्री ने कन्फर्म किया है कि 11 मई को अल जज़ीरा की एक जर्नलिस्ट शिरीन अबू की इसरायली मिलिट्री ने हत्या कर दी। 

2. इनको गोली मार दी गयी थी गन फायर के दौरान।  यह वहां पर रिपोर्टिंग करने के लिए गयी हुई थीं। इस न्यूज़ को फिर पैलेस्टाइन की हेल्थ मिनिस्ट्री और एक क़तार के न्यूज़ चैनल ने कन्फर्म की थी।  

3. शिरीन अबू आर्मी रेड के ऊपर स्टोरी कर रही थीं जेनिन नाम की सिटी में जब इनकी गोली मारकर हत्या का रडी गयी थीं। 

4. मिडिल ईस्ट में शिरीन एक जाना मान नाम हैं और इनके काम के लिए जानी जाती हैं।ऐसा कहा जा रहा है कि बुधवार को गोली लगने की वजह से इनकी हत्या हो गयी थी।  

5. इनको गंभीर हालत में अस्पताल भी ले जाया गया था लेकिन यह बच न सकीं।  इनको सीधे सर पर गोली लगी थी जो कि एक वीडियो में नज़र आ रहा है।  यह बातें अल जजीरा के निदा इब्राहिम ने कन्फर्म की हैं।  

6. अब्राहिम ने कहा  “What we know for now is that the Palestinian Health Ministry has announced her death. Shireen Abu Akleh, was covering the events unfolding in Jenin, specifically an Israeli raid the city, which is north of the occupied West Bank, when she was hit by a bullet to the head,” 

7. इन्होंने फिर आगे कहा, “As you can imagine, this is a shock to the journalists who have been working with her.”

8. इस दौरान एक और जर्नलिट को भी चोट आयी थी लेकिन अब वो ठीक हैं और इनकी कंडीशन नार्मल है।  यह जर्नलिस्ट भी इसी न्यूज़ ऑर्गेनाइज़शन से हैं और इनका नाम है अली समौदी।  

9. इनको इनकी पीठ में गोली लगी थी। इसरायली मिलिट्री का कहना है कि वो इस मामले की छान बीन कर रही है। जर्नलिस्ट शिरीन अबू इनकी न्यूज़ ऑर्गेनाइज़शन की पहली फील्ड कोरेस्पोंडेंट थीं।  

10. इन्होंने 1997 में नेटवर्क ज्वाइन किया था।  इनके ट्विटर के हिसाब से अगर देखा जाये तो यह पिछले 15 साल से इजराइल और पलेस्टाइन की लड़ाई को कवर कर रही हैं।  

 

अनुशंसित लेख