अभिनेत्री श्रीप्रदा का कोरोना कॉम्प्लीकेशन्स के कारण निधन हो गया है। सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी अमित बहल ने इस खबर की पुष्टि की

जानिए अभिनत्री श्रीप्रदा के बारे में कुछ ज़रूरी बातें

  • उन्होंने काफी हिंदी और भोजपुरी फिल्मों में काम किया है
  • उन्होंने आग के शोले , बटवारा , शैतानी इलाका ,उम्र 55 की दिल बचपन का , भाग्यवान , आज़माइश , बेवफा सनम जैसी फिल्मों में काम किया है
  • उन्होंने 1990 की एक फिल्म खतरनाक के लिए आइटम नंबर भी किया
  • 1993 के Zee TV के एक हॉरर शो में भी उन्होंने गेस्ट अपीयरेंस दी
  • एक्टर रवि किशन ने उनके निधन पर कहा कि वो नम्र स्वाभाव की थी।

कोरोना ने इनके अलावा भी अन्य अभिनेत्रियों को अपनी चपेट में लिया है जैसे टीवी एंकर कनुप्रिया, पत्रकार काकोली भट्टाचार्य और शूटर दादी चंद्रो तोमर

कौन थी एंकर कनुप्रिया?

कनुप्रिया ने अपना करियर दूरदर्शन में एंकर के रूप में शुरू किया था और इसके बाद उन्होंने , एक्टिंग , स्क्रिप्ट राइटिंग में भी काम किया है। वह एक बहु प्रसिद्द टीवी शो “अवेकनिंग विथ ब्रह्मकुमारी ” में एंकर के रूप में काम करती थी। उनकी मौत ऑक्सीजन लेवल में कमी और लगातार फीवर के वजह से हुई।

कौन थी पत्रकार काकोली भट्टाचार्य?

16 मई 1969 को एक प्रोफेसर पिता और गृहिणी माँ, भट्टाचार्य का जन्म दिल्ली में हुआ। दिल्ली विश्वविद्यालय से कला स्नातक की उपाधि प्राप्त करने के बाद, उन्होंने 1990 के दशक में बीबीसी सहित अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशनों और टीवी चैनलों के पत्रकारों के साथ पत्रकारिता में काम करना शुरू किया।

कौन थी शूटर दादी चंद्रो तोमर?

माना जाता है कि चंद्रो तोमर 60 साल की उम्र में सबसे पहले बंदूक उठाने वाली महिला थीं। उन्होंने न केवल खेल सीखा बल्कि कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भी जीत हासिल की। वह और उनकी बहन प्रकाशी तोमर, जो दुनिया के सबसे पुराने निशानेबाजों में से एक हैं, भी कई प्रतियोगिताओं में भाग लेती थीं। अभिनेत्री श्रीप्रदा निधन

 

Email us at connect@shethepeople.tv