Viral News: शिक्षा पर प्रतिबंध के विरोध में अफगान महिला ने जलाई तालिबान अधिकारी की डमी

शिक्षा पर प्रतिबंध के विरोध में अफगान महिला ने जलाई तालिबान अधिकारी की डमी। इस खटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जानें पूरी खबर इस न्यूज़ ब्लॉग में -

Vaishali Garg
28 Dec 2022
Viral News: शिक्षा पर प्रतिबंध के विरोध में अफगान महिला ने जलाई तालिबान अधिकारी की डमी

Afghan woman burns dummy Taliban official

Viral News: अफगानिस्तान में लगाए गए University Ban के विरोध में, एक महिला ने तालिबान अधिकारी की डमी को आग लगाने का एक वायरल वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उस वीडियो में दिख रहा है कि एक महिला तालिबान के एक अधिकारी की डमी पर फ्लैमेबल लिक्विड उड़ेल कर आग लगा रही है।  

वीडियो को अफगान पुनर्वास मंत्री और शरणार्थियों के मंत्री के पूर्व नीति सलाहकार शबनम नसीमी ने शेयर किया था। शबनम नसीमी के अनुसार, वीडियो में दिख रही महिला ने कहा, 'मैंने अज्ञानता को आग लगाई, लेकिन यह अभी भी जिंदा है और सांस ले रहा है। मैं अफगानिस्तान की एक लड़की हूं, और मैं चाहती हूं कि दुनिया मुझे सुने।"

Afghan woman burns dummy Taliban official

आपको बता दें तालिबान के नियंत्रण वाले Afghanistan में पिछले हफ़्ते से महिलाओं के विश्वविद्यालय में जाने पर रोक लगा दी गई है। इस प्रतिबंध ने देश भर में हंगामा खड़ा कर दिया था, जिसमें पुरुषों और महिलाओं दोनों ने प्रतिबंध की खरी निंदा की थी।

एक टीवी शो का एक वीडियो जिसमें एक प्रोफेसर लाइव टेलीविज़न पर अपने डिप्लोमा फाड़ रहे हैं, अब वायरल हो रहा है। उनका कहना है कि अगर "उनकी मां और बहन पढ़ नहीं सकती हैं तो वह इस शिक्षा को स्वीकार नहीं करते हैं।"

अफगानिस्तान में नवीनतम प्रतिबंधों के विरोध में महिलाओं ने सड़कों पर उतर कर पानी की बौछारों का बहादुरी से मुकाबला किया है। “हमारे पास और क्या चारा बचा है? उन्होंने <तालिबान> ने हमसे सब कुछ ले लिया है,” नंगरहार में एक महिला प्रदर्शनकारी ने कहा।

2021 में तालिबान के सत्ता में वापस आने के बाद से लगातार महिलाओं से उनके मूल अधिकारों को छीना जा रहा है। महिलाओं के सार्वजनिक जीवन में आने पर धीरे-धीरे प्रतिबंध लगा दिया गया है। महिलाओं को अपनी नौकरी छोड़ने के लिए मजबूर किया गया है या उन्हें घर पर रहने के लिए अपने वेतन का एक अंश का भुगतान किया गया है। उन्हें पार्कों, जिम, मेलों और स्विमिंग पूल में जाने से प्रतिबंधित कर दिया गया है; गैर सरकारी संगठनों में काम करने से; और पुरुष रिश्तेदार के बिना यात्रा करने से। उन्हें आगे सार्वजनिक रूप से सिर से पाँव तक ढकने का निर्देश दिया गया है, और लड़कियों को देश के अधिकांश माध्यमिक विद्यालयों में प्रतिबंधित कर दिया गया है।

Read The Next Article