अंशु मलिक का COVID-19 टैस्ट: भारत के ओलंपिक के लिए रेसलर, अंशु मलिक को पोलैंड ओपन से हटना पड़ा क्योंकि उनमे COVID-19 के लक्षण नज़र आ रहे थे। शुक्रवार सुबह जब उसने 57 किग्रा वर्ग के लिए वेट-इन के लिए रिपोर्ट की तो पता चला कि उसे बुखार है। इसके बाद अंशु मलिक को पोलैंड ओपन से हटने के लिए कहा गया।

भारतीय शिविर के एक सोर्स ने पीटीआई को बताया, “अंशु प्रतियोगिता को छोड़ना नहीं लेना चाहती थी, लेकिन एहतियात के तौर पर उसे अलग-थलग कर दिया गया है और उसने टेस्टिंग के लिए अपना सैंपल दिया है कि वह कोरोनावायरस से संक्रमित है या नहीं।”

सोर्स ने तब बताया कि उसका बुखार COVID-19 जैसा नहीं लग रहा था, और मलिक तब से ठीक है, जब से वह वर्साव आई है। फिर उन्होंने कहा कि उनका वायरस के लिए परीक्षण किया जा रहा है, क्योंकि ऐसे समय में कोई जोखिम नहीं लिया जा सकता है।

अंशु मलिक के माता-पिता COVID-19 पॉजिटिव थे

लगभग एक महीने पहले, अंशु मलिक के माता-पिता की COVID-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। माता-पिता के ठीक होने तक वह और उसका छोटा भाई रोहतक के एक होटल में रुके थे।

19 वर्षीय पहलवान ने इस साल अप्रैल में अल्माटी में आयोजित एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर के माध्यम से टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था। वह अब टोक्यो ओलंपिक से ठीक पहले पिछली रैंकिंग सीरीज स्पर्धा से हटने वाली दूसरी भारतीय बन गई हैं।

दीपक पुनिया ने पोलैंड ओपन से नाम वापस लिया

इससे पहले, ओलंपिक के लिए जाने वाले भारतीय फ्रीस्टाइल रेसलर दीपक पुनिया को कोहनी की चोट के कारण पुरुषों की 86 किग्रा फ्रीस्टाइल प्रतियोगिता से हटना पड़ा था।

वर्तमान में, भारत ने पोलैंड ओपन में पुरुषों की 61 किग्रा फ्रीस्टाइल प्रतियोगिता में भाग लेने वाले रवि दहिया के माध्यम से एक सिल्वर मैडल हासिल किया है। इस बीच, महिला पहलवानों में विनेश फोगट शुक्रवार को वर्साव में दो जीत के साथ पोलैंड ओपन के 53 किग्रा फाइनल में पहुंच गई हैं। अंशु मलिक का COVID-19 टैस्ट

Email us at connect@shethepeople.tv