Anti Hijab Protest In Iran: 16 वर्षीय नीका शकरामि की मृत्यु

Swati Bundela
07 Oct 2022
Anti Hijab Protest In Iran: 16 वर्षीय नीका शकरामि की मृत्यु

ईरान में चल रहे प्रोटेस्ट में 20 सितंबर 2022 को 16 वर्षीय नीका शकरामि के गायब होने की खबर आई थी। नीका तेहरान में चल रहे विरोध का हिस्सा बनी थी। लेकिन इसके बाद खबर आई कि नीका का देहांत हो चुका है। इस बात की खबर उनके घर वालों को 10 दिनों के बाद मिली। घरवालों को नीका का मृत शरीर देखने की इजाजत नहीं थी बल्कि वह उसको सिर्फ शिनाख्त करने के लिए देख पाए थे। नीका की मां और उनकी आंटी ने उनके चेहरे को देखा था। नीका की नाक और उनकी खोपड़ी तोड़ी गई थी। मृत्यु प्रमाण पत्र में भी मृत्यु का कारण किसी कठोर वस्तु के द्वारा वार करना बताया गया है।

कौन थी नीका शकरामि? 

1. 16 वर्षीय नीका शकरामि की मृत्यु ने तेहरान में चल रहे प्रोटेस्ट को और भी गुस्सैल बना दिया है। इस बच्ची की मृत्यु के बाद से तेहरान के नागरिकों में काफी गुस्सा और नाराजगी है। इसके विरोध में हाई स्कूल की छात्राओं ने 4 अक्टूबर को प्रोटेस्ट में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था।

2. शकरामि 20 सितंबर 2022 को महसा अमिनी की मौत के विरोध में चल रहे प्रोटेस्ट में भाग लिया था। इसके बाद वह तेहरान में केशवार्ज बुलेवार्ड पर विरोध प्रदर्शन के बाद लापता हो गई।

3. ईरानी अधिकारियों ने शकरामि की मृत्यु पर दावा किया है कि उनकी मृत्यु काफी ऊंचाई से गिरने के बाद हुई है। लेकिन उनके घर वालों का कहना है कि जो तस्वीरें और जिस हाल में उन्होंने शकरामि के चेहरे को देखा है वह इस बात की पुष्टि नहीं करते हैं। ईरानी अधिकारियों के द्वारा उनके परिवार को किसी भी तरह की स्मारक सेवा आयोजित करने से मना किया गया है।

4. शकरामि की मां नसरीन ने ईरानी अधिकारियों पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उनकी बेटी को मारा है और साथ ही उन पर दबाव डाला है कि वह यह कुबूल करें कि उनकी बेटी की मृत्यु उचाई से गिरने के बाद हुई है।

5. 2 अक्टूबर को शकरामि अगर जीवित होती तो वह उनका 17वां जन्मदिन होता। इसी दिन उनके परिवार में उनको खोरमाबाद में दफनाने की योजना बनाई थी। परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि सुरक्षाबलों ने उन पर अंतिम संस्कार ना करने के लिए काफी दबाव डाला।

6. शकरामि की आंटी अताश शकरामि ने ट्विटर पर अंतिम संस्कार के बारे में पोस्ट किया और लोगों को नीका शकरामि के "अंतिम जन्मदिन" के में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया। इस पोस्ट के कुछ समय बाद उन्हे और उनके पति को गिरफ्तार कर लिया गया।

7. ईरानी राज्य टेलीविजन ने 5 अक्टूबर को शकरामि की आंटी का एक इंटरव्यू चलाया। इसमें उन्होंने यह कबूला कि शकरामि की मौत ऊंचाई से गिरने के बाद हुई थी। यह इंटरव्यू तब रिकॉर्ड किया गया जब वह पुलिस हिरासत में थी। शकरामि की मां ने आरोप लगाया है कि उनकी बहन पर ऐसा बोलने के लिए पुलिसकर्मियों द्वारा दबाव डाला गया है।

8. परिवार वालों ने यह भी आरोप लगाया है कि शकरामि के मृत शरीर को चोरी किया गया था और उसको हयात ओल घेब में दफना दिया गया था। जिससे किसी भी तरह का विरोध ना हो और प्रदर्शनकारियों को उसके अंतिम दर्शन करने से रोका जा सके।

अनुशंसित लेख