आज हमारा देश काफी  डेवेलप हो गया है और इसलिए हमारे देश में एक्सपेरिएंस्ड कोच और ट्रेनिंग सेन्टर की कमी के साथ, 12 वर्षीय उपशा तालुकदार ने स्काइप के माध्यम से खुद जिमनास्ट सिखा। वह 2020 के खेलो इंडिया यूथ गेम्स में सबसे कम उम्र के प्लेयर्स में से एक बनकर उभरीं। असम द इंडियन एक्सप्रेस ने बताया कि गुवाहाटी की लड़की उपशा ने हाल ही में खेलो इंडिया में जिम्नास्टिक में तीन मैडल जीतने में सफलता हासिल की।

image

आइये आज जानते हैं उपशा के बारे में कुछ ख़ास बातें ।

1. उपशा ने आठ साल की उम्र में जिम्नास्ट सीखने के लिए दिचस्पी दिखाई ।

2.उपशा बचपन से असम से में पाली बड़ी हैं और उन्हें बचपन से ही जिम्नास्ट में रूचि रही है ।

3. उपशा ने दुनियाभर के देशों जैसे की फ्रांस, रूस, ऑस्ट्रेलिया उज्बेकिस्तान, और जॉर्जिया जैसे देशों के एक्सपर्ट्स से स्काइप के माध्यम से जिम्नास्टिक सीखा ।

4. उपशा के पिता ने यूट्यूब के बहुत से चैनल्स से अलग -अलग एक्सपर्ट्स के माध्यम से अपनी बेटी को जिम्नास्टिक्स में ट्रैन होने में मदद की ।

5. उपशा की माँ एक चाइल्ड स्पेशलिस्ट है और उपशा का कहना ही की जिमनास्टिक्स में जाने के लिए उसके माता -पिता दोनों ही बहुत सुप्पोर्टीवे रहे हैं ।

6. उपशा को जिम्नास्ट सीखाने में पूर्व अर्जुन अवार्डी जिमनास्ट और रिटायर्ड कोच कल्पना देबनाथ ने पटियाला में अपने घर में अभ्यास करने में मदद की।

7. उपशा ने हाल ही में हुए खेलो इंडिया युथ गेम्स में तीन मैडल जीते ।

8. उपशा आगे चलकर ओलंपिक्स में देश के लिए मैडल जीतने का सपना भी रखती हैं ।

9. उपशा ने अलग -अलग ऑडियो और वीडियो के ज़रिये जिम्नास्ट में अपनी प्रैक्टिस की ।

10. उपशा के पास कोई कोच या प्रैक्टिस हॉल नहीं था इसलिए उसने स्काइप सेशंस , इंटरनेट और गूगल के ज़रिये जिम्नास्ट में आगे बढ़ने की सोची ।

11.उपशा को स्काइप पर एक 16 वर्षीय रूसी जिमनास्ट, ओलेसा, जिसने स्काइप के माध्यम से उपशा को ट्रेन किया था।

12.उपशा दस दिन के लिए पंजाब के एक ट्रेनिंग कैंप में भी ट्रेनिंग के लिए गयी ।

Email us at connect@shethepeople.tv