Baby Shower: बिपाशा बासु और करन ग्रोवर स्वागत करेंगे नन्हे मेहमान का

Swati Bundela
24 Sep 2022
Baby Shower: बिपाशा बासु और करन ग्रोवर स्वागत करेंगे नन्हे मेहमान का

बिपाशा बासु इन दिनों अपने माँ बनने को लेकर चर्चा में है।23 सितंबर को बिपाशा बासु का बेबी शॉवर हुआ जिसमें उनके परिवार के लोग और रिश्तेदार नज़र आए।करन ग्रोवर और बिपाशा बासु काफ़ी खुश नज़र आए और उन्होंने इसके सम्बन्धित सोशल मीडिया पर काफ़ी तस्वीरें भी सांझी की।

Baby Shower Of Bipasha Basu

बेबी शॉवर की रस्म मुंबई के लोअर परेल के एक मॉल में आयोजित की गई।वेन्यू को बहुत से रंग बिरंगे ग़ुब्बारे  से सजाया गया इसके साथ ही सुंदर फूलों के साथ सजावट की गई। इसके साथ टेबल पर 2 केक रखे हुए थे। उन्होंने केक कटिंग सेरेमनी में बिपाशा ने हैपी हेल्थी ‘बेबी टू अस’ और वही ग्रोवर ने कहा ‘हैपी बेबी टू अस’।पार्टी को ‘टैगलाईन ‘ए लिटिल मंकी ऑन द वे’।सेरेमनी की सारी सजावट सब का ध्यान अपनी तरफ़ खींच रही थी।

बिपाशा और करन का विवाह 30 अप्रेल 2016 को हुआ था। अगस्त में उन्होंने अपनी प्रेग्नन्सी की न्यूज़ सोशल मीडिया पर बताया था। उन्होंने सोशल मीडिया पोस्ट पर एक नया समय, एक नया चरण, एक नई रोशनी, हमारे जीवन के चश्मे में एक और अनूठी छाया जोड़ती है। इसके साथ ही उन्होंने अपने फ़ैंज़ के लिए और बहुत सी बातें लिखी।

Bipasa Outfit 

ऐक्ट्रेस बिपाशा बासु अपने मोम-टू-बी पार्टी में सॉफ़्ट पिंक गाउन पहना और करन फ़ोर्मल लुक में नज़र आए। बिपाशा के फ़ेस पर प्रेग्नन्सी का ग्लो साफ़ नज़र आ रहा था। 43 साल की बिपाशा बासु पहली बार माँ बनने जा रही है इस चीज़ की ख़ुशी उनके चेहरे पर नज़र आ रही थी।

इस सेरेमनी का ड्रेस थीम औरतों के लिए पिंक या पीच और पुरुषों के लिए लैवेंडर या ब्लू था। सभी मेहमानों ने इस ड्रेस कोड को फ़ॉलो किया और करन और बिपाशा ने भी ड्रेस कोड को ध्यान में रखते हुए कपड़े पहने। बिपाशा अपने पीच गाउन बहुत सुंदर लग रही थी। दोनों कपल में पार्टी में एंट्री हाथ में हाथ डाल की। एक पल के लिए बिपाशा थोड़ा इमोशनल भी हो गई थी। दोनों ने केक को एक साथ काटा और सोशल मीडिया पर दोनों की तस्वीरें काफ़ी वाइरल भी हुई।

सोशल मीडिया पर कुछ दिन पहले फ़ोटोज़ शेयर की थी जिसमें बिपाशा ने इंडियन डरेस्सप किया था। उनकी माँ के द्वारा उनके लिए घर पर एक रस्म रखी थी जिसमें बिपाशा को उनकी पसंद का खाना खिलाया गया था। बंगाली में इस रस्म को ‘शाध’ कहते है।

अनुशंसित लेख