बेंगलुरु के स्कूलों ने कक्षा छह से नौ के लिए फिजिकल क्लासेज बंद कर दीं: जैसा कि बेंगलुरु के क्षेत्रों में COVID ​​-19 के मामलों में बढ़ोतरी हुई है, कर्नाटक सरकार ने घोषणा की कि गुरुवार को छह से नौ कक्षा के लिए रेग्युलर क्लासेज इमेजियेट इफ़ेक्ट से बंद कर दी जाएंगी।

रिपोर्ट्स के अनुसार ,कर्नाटक के प्राथमिक और माध्यमिक शिक्षा मंत्री एस सुरेश कुमार ने एक बयान में कहा, “बढ़ते COVID मामलों को ध्यान में रखते हुए, कक्षा  छह से नौ तक की फिजिकल क्लासेज को अगले आदेश तक तत्काल प्रभाव से रोक दिया गया है।”

कक्षा 10 के छात्र के लिए रेग्युलर ऑफ़लाइन क्लासेज हालांकि हमेशा की तरह जारी रहेंगी। राज्य के अन्य हिस्सों के लिए, कक्षा छह से नौ के लिए रेग्युलर क्लासेज जारी रहेंगी और इस शर्त के ऊपर देपेंद करता हैं कि भविष्य में इन क्षेत्रों के लिए निर्णय COVID सिचुएशन के अनुसार लिया जाएगा।

बहुत से छात्र और टीचर्स भी आये कोविद की चपेट में

कक्षा छह से नौ के छात्रों की परीक्षा के लिए अभी तक कोई निर्णय नहीं किया गया है। मंत्री ने बताया कि इन कक्षाओं की परीक्षाओं के निर्णय जल्द ही लिए जाएंगे।

ज़्यादातर स्कूल 2020-21 के अकादमिक ईयर के लिए बंद रहने के बाद कक्षा छह से नौ के लिए रेग्युलर ऑफ़लाइन क्लासेज इस साल 1 जनवरी से शुरू हुईं। इस साल के बाद मामलों में गिरावट तक सभी कक्षाओं के लिए ऑनलाइन क्लासेज आयोजित की गयी थी। मामलों के कम होने के बाद, स्कूलों ने धीरे-धीरे छात्रों के लिए फिजिकल क्लासेज आयोजित करना शुरू कर दिया।

हालांकि, स्कूलों को फिर से खोलने के बाद कोरोनोवायरस के लिए पॉजिटिव टेस्ट करने वाले छात्रों और टीचर्स की कई रिपोर्टें सामने आईं। मुंगेर में, लाल बहादुर शास्त्री किसान उच्च विद्यालय के 25 छात्रों ने इस वर्ष के शुरू में रैंडम टेस्टिंग  के बाद COVID-19 के लिए पॉजिटिव टेस्ट किया। इस साल जनवरी में ही, ओडिशा के गजपति जिले में 31 टीचर्स और दो छात्रों ने इस बीमारी के लिए पॉजिटिव टेस्ट किया। फिर फरवरी में, महाराष्ट्र के लातूर में एक हॉस्टल में 40 छात्रों और पांच स्टाफ मेंबर्स ने COVID -19 के लिए पॉजिटिव टेस्ट किया।

Email us at connect@shethepeople.tv