Bharat Jodo Yatra: क्या है भारत जोड़ो यात्रा? राहुल और सोनिया गाँधी साथ में मैदान में उतरे

Swati Bundela
07 Oct 2022
Bharat Jodo Yatra: क्या है भारत जोड़ो यात्रा? राहुल और सोनिया गाँधी  साथ में मैदान में उतरे

हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी कर्नाटक में कांग्रेस के द्वारा शुरू की गई भारत जोड़ो यात्रा का हिस्सा बनी है। इस दौरान राहुल गांधी सोनिया गांधी के जूतों को बांधते हुए नजर आए हैं। सोनिया गांधी 4 दिन के कर्नाटक दौरे पर आई है इस दौरान वह पदयात्रा का हिस्सा बनी है जिसमें वह कुछ दूर तक पैदल चलेंगी। आइए जानते हैं कांग्रेस द्वारा शुरू की गई भारत जोड़ो यात्रा के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी।

क्या है भारत जोड़ो यात्रा? Rahul & Sonia Gandhi Campaign 

कांग्रेस सरकार के द्वारा भारत जोड़ो यात्रा शुरू की गई है। यह यात्रा 7 सितंबर 2022 से शुरू हुई है। यह यात्रा पदयात्रा है जो 12 प्रदेशों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी और इसकी शुरुआत कन्याकुमारी से हुई है।

इस पद यात्रा के दौरान 150 दिनों के अंदर कुल मिलाकर 3,570 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। इस पदयात्रा का मुख्य उद्देश्य देश में बढ़ती बेरोजगारी, असमानता, कट्टरता के विरुद्ध पदयात्रा का निकालना है। इस यात्रा के पीछे की मनसा देश को एकजुट करना और मजबूत करना है। इस यात्रा में खुद कांग्रेस अध्यक्ष Rahul Gandhi मौजूद होंगे साथ ही उनके साथ शुरू से लेकर अंत तक 100 नेता रहेंगे। यह यात्रा कन्याकुमारी से शुरू होकर कश्मीर तक पहुंचेगी। पदयात्रा के दौरान 1 दिन में लगभग 22 से 23 किलोमीटर की दूरी तय करने की योजना बनाई गई है।

भारत जोड़ो यात्रा में होंगे तीन प्रकार के यात्री-

भारत छोड़ो यात्रा में भाग लेने वाले यात्रियों को तीन प्रकार में विभाजित किया गया है। पहले है 'भारत यात्री', यह वह यात्री है जो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ शुरू से लेकर अंतिम तक इस यात्रा का भागीदार रहेंगे। दूसरे हैं 'प्रदेश यात्री', यह यात्रा जिन जिन प्रदेशों से होकर गुजरेगी वहां से 100-100 लोग इस यात्रा का हिस्सा बनेंगे। इन लोगों को प्रदेश यात्री कहा गया है। तीसरे हैं 'अतिथि यात्री', जिन प्रदेशों से होकर यह यात्रा नहीं गुजरेगी वहां से भी 100-100 लोग इस यात्रा में हिस्सा लेंगे इन्हीं लोगों को अतिथि यात्री कहा गया है। पदयात्रा के दौरान सभी यात्री कंटेनर में आराम करेंगे। जानकारी के मुताबिक इस पद यात्रा के लिए 60 कंटेनर बनाए गए हैं। यह पदयात्रा प्रदेश के जिस भी गांव या हिस्से से होकर गुजरेगी वही का स्थानीय भोजन यात्री खाएंगे। सारे कंटेनर उसी जगह पर रखे जाएंगे और वहीं पर सभी यात्री विश्राम करेंगे।

इस यात्रा के कुछ मुख्य स्लोगन- 

भारत छोड़ो यात्रा के कुछ मुख्य स्लोगन इस प्रकार हैं
1. बेरोजगारी का जाल तोड़ो, भारत जोड़ो
2. महंगाई से नाता तोड़ो, मिलकर भारत जोड़ो
3. संविधान बचाएंगे, मिलकर भारत जोड़ेंगे
4. मिले कदम, जुड़े वतन
5. नफरत छोड़ो, भारत जोड़ो

अनुशंसित लेख