बीजेपी पदाधिकारी को त्रिपुरा के खोवई में नाबालिग के रेप के जुर्म में गिरफ्तार किया गया

बीजेपी पदाधिकारी को त्रिपुरा के खोवई में नाबालिग के रेप के जुर्म में गिरफ्तार किया गया बीजेपी पदाधिकारी को त्रिपुरा के खोवई में नाबालिग के रेप के जुर्म में गिरफ्तार किया गया

SheThePeople Team

20 Jul 2021

हाल ही में त्रिपुरा के खो गई में एक नाबालिक के बलात्कार के जुर्म में बीजेपी पदाधिकारी श्यामलसरकार को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया और पुलिस ने ये भी बताया कि वह नाबालिग लड़की 7 महीने से प्रेगनेंट है। बीजेपी पदाधिकारी रेप केस में हुआ गिरफ्तार

बीजेपी पदाधिकारी को रेप केस में किया गिरफ्तार


46 वर्षीय बूथ लेवल के पदाधिकारी जो कि सेंटर में मौजूद भारतीय जनता पार्टी के एक मेंबर भी हैं, को त्रिपुरा के खो गई जिले मैं 16 वर्षीय नाबालिग बच्ची का बलात्कार करने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है।

श्यामल सरकार को बच्ची का बलात्कार करने के जुर्म में गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने बताया कि वह बच्ची 7 महीने से प्रेग्नेंट है।

रेप केस पर पुलिस अधिकारी का बयान


श्यामल सरकार को गिरफ्तार करने वाले एक पुलिस ऑफिसर सोना चरण जमा दिया ने बताया कि सरकार जो कि कृष्णा पुर गांव में पोलिंग बूथ के इंचार्ज थे पर हाल ही में एक नाबालिक बच्ची का बलात्कार करने का केस फाइल किया गया है और हमने उसे सोमवार को अरेस्ट कर लिया था।

सरकार पर इंडियन पीनल कोड के तहत धारा 376 ( बलात्कार के जुर्म में) और 506 धारा ( क्रिमिनल इंटिमिडिशन) और पोक्सो एक्ट के तहत केस फाइल किया गया है।

बीजेपी की स्पोकपर्सन सुब्रता चक्रवर्ती ने लड़की के परिवार को सहानुभूति देते हुए कहा कि सरकार को सस्पेंड कर दिया गया है और पुलिस उसके खिलाफ सख्त से सख्त एक्शन लेगी। इस केस में पार्टी किसी भी तरह से इंटरफेयर नहीं करेगी।

पार्टी से किया गया बाहर


श्यामल सरकार की इस हरकत के बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया है और साथ ही में बीजेपी की प्रवक्ता सुब्रत चक्रवर्ती ने कहा कि यह बहुत ही भयानक घटना है। पुलिस उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करेगी।

पहले भी आ चुके हैं ऐसे ही मामले सामने


ऐसे ही कई मामले जिनमें नेताओं ने और विधायकों ने महिलाओं और बच्चों के साथ दुष्कर्म किए हैं, सामने आए हैं जिसके बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया लेकिन इनमें किसी भी तरह से शक्ति नहीं बढ़ती गई और ऐसे कैसे में कोई कमी नहीं आ रही है। कई विधायकों नेता तो पीड़ित महिला यह बच्ची के परिवार को धमकी भी देने लगते हैं।

अनुशंसित लेख