अभी तो कोरोनावायरस को ग्लोबल इमरजेंसी डिक्लेअर हुए कुछ दिन भी नहीं हुए थे, की दुनियाभर में मानों हड़कंप-सा मच गया। अब तो भारत में भी कोरोनावायरस के 17 मरीज़ सामने आ चुके हैं। हालांकि आजकल इसके काफी उपाय बताये जा रहे हैं, हमने कुछ माओं से बात की और उनसे जाना कि वह अपने बच्चे की सेफ्टी के लिए क्या टिप्स आज़मानें वाली हैं। आइये जानते हैं उनका क्या कहना है:

image

जानकारी देना

“मेरा मानना है की हमें अपने बच्चों को वायरस के बारे में व आसपास की स्थितियों के लगातार अपडेट करते रहना चाहिए। हमें उन्हें यह भी बताना चाहिए की वह कैसे सतर्क रह सकते हैं,” कहना है सफ्रोनटेल की फाउंडर नंदिता अय्यर का।

यह ध्यान रखना चाहिए कि वह हाथ काफी बार धोएं, और अच्छे-से धोएं

ऑथर व टैल मी यॉर स्टोरी की फाउंडर, कोरल का कहना है कि “हमनें उसे स्कूल के लिए सैनिटाइज़र दिया है लेकिन शायद वह उसे अच्छे इस्तेमाल नहीं कर पा रहा है। ऐसे में, हमने उसे समझाया है की हाथ किस तरह धोने चाहिए। एक डॉक्टर ने एक काफ़ी अच्छी कॉमिक वीडियो दिखाई थी जिससे वह काफ़ी-कुछ समझ पाया है।”

” मैं हमेशा बेसिक हाइजीन को लेकर लड़ती रहती हूँ लेकिन अभी यही चाह रही हूँ कि वह ढंग से नहाएं और हाथ अच्छे से धोएं”, कहना है रुचिता दर शाह का, जो की फर्स्ट मॉम्स क्लब की फाउंडर हैं।

इम्यून सिस्टम को और स्ट्रांग बनाने के लिए विटामिन सी की मात्रा बढ़ाएं

वह लोग, जिन्हे पहले से अस्थमा, डाइबिटीज़ जैसी कोई बीमारी है, उनमें कोरोनावायरस होने का खतरा ज़्यादा हैं। ऐसे में, विटामिन सी ज़्यादा लेने से इम्यून सिस्टम स्ट्रांग होता है।

शाह का कहना है “मैं उन्हें विटामिन सी दे रही हूँ ताकि उनकी इम्युनिटी बनी रहे और हम ज़्यादा पैनिक भी ना हों। वह रोज़ की तरह स्कूल जाता है और खेलने भी जाता है।”

कपूर व हल्दी वाला दूध

हल्दी वाला दूध हमेशा से ही हमारी संस्कृति में रहा है। “हम उसे हल्दी वाला दूध पिलाते हैं और जब-जब वह बाहर जाए, तो उसे जलते हुए कपूर की ख़ुश्बू लेने को बोलते हैं”, ऐसा कहना है कोरल दासगुप्ता का।

Email us at connect@shethepeople.tv