Covid ​​-19 पर अपने रीसेंट गाइडलाइन्स में मिनिस्ट्री ऑफ़ होम अफेयर्स ने वर्क प्लेस पर या पब्लिक प्लेस और समारोहों में मास्क पहनना ज़रूरी कर दिया है। इंडिया की पहली महिला सविता कोविंद ने भी इसका पालन करते हुए खुद मास्क बनाने की डयूटी लेली। उन्होंने राष्ट्रपति एस्टेट के शक्ति हाट में फेस मास्क बनाने का काम शुरू कर दिया है। ये मास्क दिल्ली शेल्टर होम्स में बाटें जाएंगे।

image

ये बनाते समय, वह खुद एक लाल रंग का मास्क पेहेन के बैठी हुई थी। इंटरनेट यूसर्स ने सविता कोविंद के स्टेप की प्रशंसा की है।

इन मास्क की सिलाई करके, फर्स्ट लेडी ने हमें संदेश दिया है कि हम इस कोरोनोवायरस महामारी से एक साथ लड़ सकते हैं।

सविता कोविंद के बारे में कुछ और बातें :

सविता कोविंद भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद की पत्नी हैं। सविता कोविंद के माता-पिता लाहौर के थे, 1947 में बटवारे के बाद वो भारत चले आये और साउथ दिल्ली के लाजपत नगर में रहने लगे। सविता कोविंद महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (MTNL) में एक पूर्व एम्प्लोयी भी है। उन्होंने वहां एक टेलीफोन ऑपरेटर का काम किया और बाद में वो प्रमोट होकर चीफ सेक्शन सुपरवाइजर बन गयी। उनका एक बेटा और एक बेटी है।

 इंटरनेट यूसर्स ने सोशल मीडिया पर सविता कोविंद के स्टेप की प्रशंसा की है।

स्मृति ईरानी

इससे पहले, स्मृति ईरानी ने, सरकार को नागरिकों को उनका इस्तेमाल करने की सलाह देने के बाद, उनको को क्लॉथ मास्क बनाने का तरीका सीखने के लिए सुई धागा भी यूज़ किया था। अपने फोटो ट्यूटोरियल में, ईरानी चार सरल चरणों में खुद को COVID -19 से बचाने के लिए मास्क बनाने का तरीका दिखाती हैं।

स्मृति जुबिन ईरानी प्रधान मंत्री मोदी की कैबिनेट में टेक्सटाइल मिनिस्टर हैं और उन्हें मई 2019 से, मोदी की दूसरी कैबिनेट में, महिला और बाल विकास मंत्री भी बना दिया गया था ।

Email us at connect@shethepeople.tv