इंस्पेक्टर ने मदद की  : संकट में फंसे नागरिकों की मदद करना दिल्ली पुलिस के सिपाही कुलदीप सिंह के काम का सिर्फ हिस्सा नहीं है बल्कि वह अपने परिवार के हिस्से के रूप में जरूरतमंद लोगों की मदद करते हैं। उन्हें यह करके खुद पर गर्व होता है और वह यह सुनिश्चित करते है कि वह उन्हें राहत प्रदान करने की पूरी कोशिश करे।

कांस्टेबल का मानना ​​है कि घर से दूर रहकर ही उनमे यह गुण आया है।

“हम अपने घरों से दूर रहते हैं। हम अपने परिवार को ऐसे लोगों में देखते हैं जो संकट में हैं,” सिंह ने 82 वर्षीय एक महिला को उनके COVID-19 वैक्सीनेशन के साथ मदद करने के अपने कार्य के बाद कहा।

रिपोर्ट्स के अनुसार 82 वर्षीय स्पिनस्टर और रिटायर्ड इंग्लिश टीचर शैला डिसूजा ने फिलहाल एक लेडी अटेंडेंट के साथ रहने की इच्छा व्यक्त की, उन्होंने कांस्टेबल से खुद को वैक्सीन लगवाने की इच्छा व्यक्त की। रिक्वेस्ट मिलने के बाद कश्मीरी गेट पुलिस स्टेशन में तैनात सिंह ने रेजिस्ट्रेशन और वैक्सीनेशन  में उनकी मदद की। यहां तक ​​कि उन्हें गोद में उठाकर वैक्सीनेशन सेण्टर तक ले गए।

कांस्टेबल कुलदीप सिंह ने एएनआई को बताया, “वह मेरे बीट एरिया की एक सीनियर सिटीजन है। मैं अक्सर उनके हेल्थ चेक-अप करवाने के लिए उनके पास जाता हूं। उन्होंने COVID वैक्सीनेशन करवाने की इच्छा व्यक्त की। मैंने अपने एसएचओ से बात की और उन्होंने उनकी मदद की। ”

“वह पिछले दो वर्षों से चल नहीं सकती थी और स्ट्रेचर या व्हीलचेयर पर वैक्सीनेशन सेण्टर तक नहीं जा सकती थी। इसलिए मुझे उन्हें दूसरे तरीके से अस्पताल ले जाना पड़ा, उनका वैक्सीनेशन करवाया और उन्हें घर वापस छोड़ दिया। “, कुलदीप सिंह ने बताया।

महामारी से फैली नेगटिवित्य के बीच, सिंह ने सलाह दी, “लोगों की मदद करना हमारा कर्तव्य है। हम घर से दूर रहते हैं इसलिए हमें ऐसे लोगों में एक परिवार या परिजन ढूंढे और उनकी देखभाल करें। मैं लोगों से रिक्वेस्ट करना चाहता हूं। जरूरतमंद, तभी हम इस महामारी से गुजर सकते हैं।”

Email us at connect@shethepeople.tv