दिल्ली सेक्सटॉरशन केस: 40 पुरुषों को एक डेटिंग एप के ज़रिए फसाया और ज़बरदस्ती वसूली की

दिल्ली सेक्सटॉरशन केस: 40 पुरुषों को एक डेटिंग एप के ज़रिए फसाया और ज़बरदस्ती वसूली की दिल्ली सेक्सटॉरशन केस: 40 पुरुषों को एक डेटिंग एप के ज़रिए फसाया और ज़बरदस्ती वसूली की

SheThePeople Team

27 Oct 2021

दिल्ली सेक्सटॉरशन केस - यह मामला नई दिल्ली का है जहाँ एक लकड़ी बेचने वाले को एक महिला ने किडनैप आकर लिया था। इसके बाद इस आदमी ने पुलिस स्टेशन जाकर कम्प्लेन लिखवाई थी और उसके बाद सामने आया है कि इस तरीके के से यह महिलाओं की गैंग 40 लोगों को टारगेट कर चुके हैं।

इस बिजनेसमैन को कैसे फसाया गया था? दिल्ली सेक्सटॉरशन केस


इस मामला द्वारका पुलिस स्टेशन में दर्ज कराया गया है और पुलिस ने इस मामले में अभी तक 3 महिलाओं को अरेस्ट भी कर लिया है। यह लोग टिंडर डेटिंग एप से इन लोगों को टारगेट करते हैं और इस में कई लोग शामिल हैं।

इस केस में इस आदमी को महिला ने दिल्ली के जनकपुरी एरिया में फसाया था जहाँ इसकी लकड़ी की दुकान है। यह महिला वहां पर प्लाई खरीदने के बहाने से आयी थी और उसके बाद इसने पिलाई वाले को पानी पिलाया जिसको पीने के बाद यह बेहोश हो गया और फिर यह महिला इस बिजनेसमैन को अपने घर लेकर गयी थी।

जब इस आदमी को होश आया तब यह बेकार हालत में बिस्तर पर पढ़ा हुआ था और उस कमरे में 6 महिलाएं और 3 आदमी थे। इसके बाद इन लोगों ने इस आदमी को मारा पीटा इससे इसका पर्स छीन लिया और उससे 7 लाख रूपए मांगे।

इस पूरे मामले के बारे में पुलिस को कैसे पता लगा?


इस लकड़ी के बिजनेसमैन ने इस मामले के बारे में पुलिस को बताया और उसके बाद स एही पुलिस इस ग्रुप पर निगरानी रख रही थी। इस महिला ने इस बिजनेसमैन को पैसे डिसकस करने के लिए मिलने को कहा था जिसके बाद इसे पुलिस ने अरेस्ट कर लिया था।

पुलिस ने मामले के बारे में क्या कहा?


दिल्ली के द्वारका के DCP का कहना है कि इस काण्ड और ग्रुप के पीछे मैन आदमी शंकर चौधरी है और इसके अलावा एक 42 साल की महिला है जिसका नाम सोनू सूरी है। इनको पुलिस ने 26 अक्टूबर को अरेस्ट कर लिया था। शंकर चौधरी ने बताया की इन सब चक्कर के बारे में सोनू सूरी ने जेल में सीखा था जब यह किसी क्रिमिनल केस को लेकर जेल में बंद थी।

इस केस में बहुत बड़ी गैंग शामिल है और इस में इन्होंने जज़ और पुलिस भी झूठे बना रखे हैं। पहले तो यह आदमी को टिंडर के ज़रिए फसाते हैं उसकी अश्लील वीडियो और फोटो बनाते हैं और उसके बाद उससे जबजस्ती पैसे ऐंठते हैं। इसके लिए इन्होंने जज़ और पुलिस भी झूठे रखे हैं रेप को लेकर डराने और धमकाने के लिए।

अनुशंसित लेख