Advertisment

ई-रिक्शा चालक आरती को मिला यूके का सम्मान: बदलाव लाने वाली महिला

उत्तर प्रदेश की आरती ने अमल क्लूनी अवार्ड जीता और किंग चार्ल्स तृतीय से मुलाकात की। सरकारी गुलाबी ई-रिक्शा कार्यक्रम के जरिए युवाओं को प्रेरित करने वाली कहानी।

author-image
Vaishali Garg
एडिट
New Update
Driver Arti

E-Rickshaw Driver Arti Wins UK Women's Empowerment Award (image Credit: PTI)

E-Rickshaw Driver Arti Wins UK Women's Empowerment Award : आरती, उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले से एक ई-रिक्शा चालक हैं, जिन्होंने हाल ही में यूके का प्रतिष्ठित अमल क्लूनी वुमन एम्पावरमेंट अवार्ड जीता है। इस जीत के बाद उन्हें किंग चार्ल्स तृतीय से मुलाकात का भी सौभाग्य प्राप्त हुआ। यह सम्मान उन्हें युवा लड़कियों को प्रेरित करने के उनके प्रयासों के लिए मिला, जो उन्होंने सरकारी गुलाबी ई-रिक्शा कार्यक्रम के माध्यम से किए।

Advertisment

ई-रिक्शा चालक आरती को मिला यूके का सम्मान: बदलाव लाने वाली महिला

गुलाबी सशक्तिकरण: आत्मनिर्भरता की राह

 जुलाई 2023 में, प्रोजेक्ट लेहर के माध्यम से आरती को पहली बार भारत सरकार के गुलाबी ई-रिक्शा कार्यक्रम से जोड़ा गया। यह परियोजना प्रिंस ट्रस्ट इंटरनेशनल और आगा खान फाउंडेशन (AKF) के सहयोग से चलाई जाती है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य पूरे भारत में महिलाओं को सशक्त बनाना और उन्हें आय अर्जित करने के अवसरों तक पहुंच बढ़ाना है। बहराइच जिला प्रशासन ने एक अभिनव योजना के तहत महिला चालकों के लिए सब्सिडी के साथ गुलाबी ई-रिक्शा उपलब्ध कराए। 

Advertisment

यह पहल, विशेष रूप से विधवाओं और एकल माताओं जैसी कमजोर महिलाओं के लिए रोजगार के अवसरों को बढ़ाना चाहती है। सुरक्षित परिवहन तक उनकी पहुंच बढ़ाकर उनकी गतिशीलता और स्वतंत्रता को बढ़ावा दिया जाता है।  

आपको बता दें कि आरती की एक पांच साल की बेटी है, जिन्हें लंदन की अपनी पहली यात्रा पर आरती ने केक और जूते खरीदकर लाए। सरकारी गुलाबी ई-रिक्शा परियोजना के साथ उनके प्रयासों को सराहना मिली, जो वास्तव में बदलाव लाने के उद्देश्य से अन्य महिलाओं के लिए सुरक्षित परिवहन प्रदान करती है। 

सपनों को उड़ान देने वाली पहल

Advertisment

"हम प्रिंस ट्रस्ट इंटरनेशनल के साथ अपनी साझेदारी के लिए अत्यंत आभारी हैं, जिसने हमें युवा महिलाओं को उनकी आकांक्षाओं को प्राप्त करने में समर्थन करने में सक्षम बनाया है। और भी बहुत सी आरती बनने के लिए: अपने आप में विश्वास रखें, और अपनी महत्वाकांक्षाओं की ज्योति को कभी कम न होने दें," यह कहना था टिन्नी सहवानी, सीईओ, AKF (इंडिया) का, जो आरती की मित्र और दुभाषिया भी थीं।

गौरतलब है कि प्रिंस चार्ल्स द्वारा स्थापित, प्रिंस ट्रस्ट इंटरनेशनल अब किंग्स ट्रस्ट इंटरनेशनल में तब्दील हो जाएगा, क्योंकि यह रोजगार, शिक्षा और उद्यम कार्यक्रमों के माध्यम से 20 देशों में युवाओं का समर्थन करने का अपना काम जारी रखेगा। प्रिंस ट्रस्ट वुमन एम्पावरमेंट अवार्ड दुनिया भर की उन युवा महिलाओं की उपलब्धियों को सम्मानित करता है, जिन्होंने अपने आसपास के लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए कठिनाइयों पर विजय प्राप्त की है।  

आरती की कहानी न सिर्फ सफलता की कहानी है, बल्कि यह सामाजिक परिवर्तन की एक मिसाल भी है। वह उन युवाओं के लिए प्रेरणा बन चुकी हैं जो अपने सपनों को पूरा करने का साहस रखते हैं।

Driver Arti UK Women's Empowerment Award E-Rickshaw
Advertisment