Advertisment

Hyderabad Professor Molestation Case: हैदराबाद के प्रोफेसर को किया गया गिरफ्तार

विदेशी छात्रा जो केवल अपने देश की भाषा में ही बात कर सकती थी। उसे प्रोफेसर ने अपने रहवास में बुलाया जो यूनिवर्सिटी कैंपस में था वहां प्रोफेसर ने उसे किताब देने के लिए बुलाया था।

author-image
Swati Bundela
03 Dec 2022
Hyderabad Professor Molestation Case: हैदराबाद के प्रोफेसर को किया गया गिरफ्तार

Hyderabad Professor Molestation Case

हैदराबाद के प्रोफेसर को सेक्सुअल हरेसमेंट और विदेशी छात्रा की मोडेस्टी भंग करने के लिए हैदराबाद पुलिस के द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। प्रोफेसर ने छात्रा को अपने रहवास मे किताब देने का मेसेज कर बुलाया था। पुलिस के अनुसार, ये घटना 2 दिसंबर शुक्रवार के दिन घाटी थी।पुलिस ने अपराधी हैदराबाद विश्वविद्यालय के सीनियर प्रोफेसर को गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisment

Hyderabad Professor Molestation Case

विदेशी छात्रा जो केवल अपने देश की भाषा में ही बात कर सकती थी। उसे प्रोफेसर ने अपने रहवास में बुलाया जो यूनिवर्सिटी कैंपस में था वहां प्रोफेसर ने उसे किताब देने के लिए बुलाया था। हैदराबाद के प्रोफेसर को कंप्लेंट के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया,प्रोफेसर अपने घर पर अकेला था उसने विदेशी छात्रा को एल्कोहोल पिलाकर उसकी सिट्यूएशन का फायदा उठाने की कोशिश की।

शिलपावल्ली जो हैदराबाद के डेप्युटी कमिश्नर है उनके द्वारा  ये इस्टेटमेंट दी गई है कि छात्रा ने एक दूसरे प्रोफेसर की मदद से कंप्लेंट दर्ज कराई है

यूनिवर्सिटी के द्वारा एक प्रेस कॉन्फ्रेंस रख कर इस घटना की जानकारी दी गई। और इस्टेटमेंट देते हुए बताया गया कि प्रोफेसर को घटना की सूचना मिलते ही निलंबित कर दिया गया है।

Advertisment

वहीं दूसरी ओर छात्रों के द्वारा यूनिवर्सिटी के मेन गेट पर प्रोटेस्ट करके महिला छात्राओं की सुरक्षा की मांग की। जब की यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन या विश्वविद्यालय छात्र संघ द्वारा इस घटना की निंदा करते हुए इसे सेक्शुअली एसॉल्टेड का केस बताया गया कहा गया कि उस छात्रा को सेक्शुअली एसॉल्ट किया गया लेकिन पुलिस ने इस मामले को साफ करते हुए इसे सेक्सुअल एसॉल्ट का केस होने से इंकार कर दिया।

स्टूडेंट यूनियन के द्वारा विश्वविद्यालय के छात्रों और फैकेल्टी मेंबर्स को यूनिवर्सिटी के मेन गेट पर खड़ा कर इस मामले को अथॉरिटी से संबंधित मामला बता जवाबदेह मान मामले में तुरंत न्याय करने की मांग की गई।

डिप्टी कमिश्नर शिल्पावल्ली ने कहा कि उसे प्रोफेसर के घर एक मैसेज कर बुलाया गया जहां उसे बुक देने का कह कर उसे मोलेस्ट किया छात्रा ने बाद में बताया कि उसके दोस्तों ने जब उसे रोते देखा और उसने कुछ बातें उनसे साझा की और फिर कंप्लेंट दर्ज कराई। उन्होंने आगे बताते हुए कहा कि गुनहगार को पुलिस कस्टडी में ले लिया गया है और से पूछताछ की जा रही है।

Advertisment
Advertisment