न्यूज़

इस्कॉन ने सनातन धर्म की भावनाओं को ठेस पहुँचाने पर सुरलीन कौर के खिलाफ कंप्लेंट की

Published by
Ayushi Jain

एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा था, जिसमें एक स्टैंड-अप कॉमेडियन सुरलीन कौर को इस्कॉन (इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शसनेस) और प्राचीन हिंदू संतों के अनुयायियों के लिए अपमानजनक टिप्पणियों का उपयोग करते हुए सुना जा सकता है।

वीडियो में सुरलीन बोलती हुई नज़र आ रही हैं – “बेशक हम इस्कॉन वाले हैं, पर अंदर से सब हरामी पोर्न वाले हैं ”

वीडियो को कंपनी ‘शेमारू’ द्वारा अलग-अलग सोशल मीडिया साइट्स, यूटयूब चैनल, कंपनी की ऑफिशल वेबसाइट आदि सभी सोशल मीडिया हैंडल्स पर पोस्ट किया गया था।

इस घटना की निंदा करते हुए, राधारमण दास, वाईस प्रेजिडेंट और इस्कॉन के स्पोकसपर्सन, ने ट्विटर पर सूचित किया कि इस्कॉन ने अभिनेत्री और स्टैंड-अप कॉमेडियन सुरलीन कौर और एंटरटेनमेंट कंपनी शेमारू के खिलाफ इस्कॉन और हिंदुओं का अपमान करने की शिकायत दर्ज कराई है।

उन्होंने कहा, “यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि अलग -अलग प्लेटफार्मों पर सनातन धर्म के फोल्लोवेर्स के खिलाफ ऐसे शब्दों का प्रयोग किया जा रहा है।”

और पढ़ें: एक सर्वे के अनुसार 56% महिलाओं को लगता है कि कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न बढ़ा है

मुंबई पुलिस ने कंप्लेंट दर्ज की

मुंबई पुलिस द्वारा फाइल की गयी कंप्लेंट में, इस्कॉन ने लिखा है कि कौर द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली भाषा बेहद आपत्तिजनक और अपमानजनक है, और इसने सनातन धर्म, हिंदुओं और इस्कॉन के फोल्लोवेर्स का दुनिया भर में अपमान किया गया है।

“यह सनातन धर्म और हमारे ऋषि मुनियों को बदनाम करने की एक चाल है ताकि युवाओं को आसानी से भड़काया जा सके। ऐप जैसे टिक-टोक आदि के माध्यम से दूसरे देशों का ध्यान जनता के चरित्र को नष्ट करना है ताकि हमारे देश को आसानी से कण्ट्रोल और नष्ट किया जा सके। इसे हम चीन के उदाहरण से सीख सकते हैं। पत्र में आगे कहा गया है कि जब प्राचीन चीनियों ने शांति से रहने का फैसला किया, तो उन्होंने ग्रेट वाल ऑफ़ चाइना बना दी।

इस्कॉन ने महसूस किया अपमानित

इस वीडियो को एक महीने पहले पोस्ट किया गया था और पिछले कुछ दिनों से यह काफी वायरल हो रहा है। वीडियो पोस्ट करने को लेकर उन्हें काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ा जिसके बाद शेमारू एंटरटेनमेंट लिमिटेड को मजबूरन माफी माँगने के लिए ट्विटर पर जाना पड़ा। उन्होंने कहा कि उस वीडियो को हटा दिया गया है।

दास ने कहा “हम आपकी माफी स्वीकार नहीं करते हैं। हम आपके खिलाफ बलराज स्याल और सुरलीन कौर के खिलाफ कानूनी रूप से कार्यवाही करेंगे। यह सनातन धर्म को अपमानित करने का एक ट्रेंड बन गया है, अब और नहीं। हम इस बात को सभी के लिए एक उदाहरण बनाएंगे। अब बहुत हो गया है। ”

और पढ़ें: झूठे यौन उत्पीड़न के केस में दिल्ली हाई कोर्ट ने महिला पर 50,000 रुपये का जुर्माना लगाया

Recent Posts

महिलाओं के राइट्स: क्यों सोसाइटी सिर्फ महिलाओं की ड्यूटीज से ही रहती है ऑब्सेस्ड?

आज भी सोसाइटी में कई लोगों का ये मानना है कि महिलाओं की सबसे पहली…

57 mins ago

रायसा लील: 13 साल में ओलिंपिक पदक जीतने के बाद सामने आया ये पुराना वायरल वीडियो

टोक्यो ओलंपिक्स में स्केटबोर्डिंग में इस साल ब्राज़ील की रायसा लील ने रजत पदक जीता…

2 hours ago

बंगाल की महिलाओं से जबरजस्ती पोर्न शूट कराया गया, मामला राज कुंद्रा से जुड़ा है

इन में से एक महिला ने कहा कि यह वीडियोस कई वेबसाइट पर पोस्ट की…

3 hours ago

क्यों टूटती हुई शादियों को नहीं मिलती है सोसाइटी की एक्सेप्टेन्स?

हमारे देश में सदियों से शादी को एक "पवित्र बंधन" माना गया है जिसका हर…

3 hours ago

हैप्पी बर्थडे कुब्रा सेठ, जानिए एक्ट्रेस कुब्रा सेठ के बारे में 5 बातें

कुब्रा सेठ इनके कक्कू के रोल के लिए फेमस हैं जो कि सेक्रेड गेम्स में…

4 hours ago

मुंबई: डॉक्टर ने ली थी टीके की दोनों खुराक फिर भी दो बार कोविड रिपोर्ट आई पॉजिटिव

मुंबई के एक 26 वर्षीय डॉक्टर की 13 महीनों में तीन बार पॉजिटिव रिपोर्ट आई…

4 hours ago

This website uses cookies.