दिल्ली में कंगना रनौत, एकता कपूर और करण जौहर को 8 नवंबर को दिया जाएगा पद्म श्री अवार्ड

दिल्ली में कंगना रनौत, एकता कपूर और करण जौहर को 8 नवंबर को दिया जाएगा पद्म श्री अवार्ड दिल्ली में कंगना रनौत, एकता कपूर और करण जौहर को 8 नवंबर को दिया जाएगा पद्म श्री अवार्ड

SheThePeople Team

03 Nov 2021

एक्ट्रेस कंगना रनौत, एकता कपूर और करण जौहर को दिल्ली में चौथा सबसे ऊंचा अवार्ड पद्मा श्री से नवाज़ा जाएगा। इनको पिछले साल जनवरी में भी यह अवार्ड दिया गया था। इनको यह अवार्ड आर्ट्स की फील्ड में इनके योगदान के लिए दिया जाएगा। इनको यह अवार्ड नई दिल्ली में 8 नवंबर को दिया जाएगा।

कहाँ दिया जाएगा कंगना रनौत, एकता कपूर और करण जौहर को पद्म श्री अवार्ड?


इस फंक्शन के लिए एकता कपूर के पिता भी उनके साथ दिल्ली जायेंगे क्योंकि एकता चाहती थीं कि उनके पिता भी उनको अवार्ड लेते हुए देखें। कंगना को भी यह अवार्ड पिछली साल मिल चुका है और उन्होंने यह अवार्ड उन सभी लड़कियों को डेडिकेट किया था जो सपने देखने की चाहत रखती हैं।

पद्मा अवार्ड क्या होता है?


पद्मा अवार्ड चौथा सबसे बड़ा अवार्ड होता है और यह प्रेजिडेंट द्वारा दिया जाता है। यह एक गवर्नमेंट फंक्शन होता है और हमेशा राष्ट्रपति भवन में ही होता है।

कंगना दिवाली को लेकर भी चर्चा में थीं क्योंकि कल दिवाली है और इन्होंने पटाखों को लेकर स्टेटमेंट दिय। यह कंगना का स्टेटमेंट सदगुरु के एक वायरल वीडियो के बाद आया है जिस में सदगुरु कह रहे हैं कि छोटे छोटे बच्चे पटाखों के लिए कई महीनों पहले से उत्साहित रहते हैं और ऐसे में उन्हें पटाखे चलाने की ख़ुशी न देना गलत होगा। इससे बेहतर है कि आप आपके बच्चों की यह ख़ुशी न छीने उन्हें पटाखे चलाने दें और खुद दो तीन दिन के गाड़ी की जगह पैदल चलें जिससे प्रदुषण का असर कम हो जाएगा।

कंगना ने भी सदगुरु की यह वीडियो इनके इंस्टाग्राम पर पोस्ट भी की और लिखा कि इन्होंने खुद लाखों पेड़ लगाएं हैं और उन्होंने उन लोगों को सही जवाब दिया है जो पटाखे चलाने के लिए मना करते हैं। वहीँ दूसरी ओर दिल्ली के चीफ मिनिस्टर अरविन्द केजरीवाल ने दिल्ली में पटाखों को जनवरी तक के लिए बैन कर दिया है और कहा है कि यह लोगों की सेहत के लिए जरुरी था।

दिल्ली के प्रदुषण कण्ट्रोल कमिटी ने पटाखों की बेच और खरीद पर रोक लगा दी है और जो भी पटाखे चलते देखा जायेगा उसके खिलाफ कार्यवाही भी की जाएगी।

अनुशंसित लेख