First Woman Soldier Skydiver बनीं लांस नायक मंजू

पहली महिला सैनिक स्काईडाइवर बनीं लांस नायक मंजू। आपको बता दें की भारतीय सेना में महिलाओं के कार्यभार संभालने और अपना सर्वश्रेष्ठ पैर आगे बढ़ाने के कई उदाहरण हैं। आइए जानते है पुरी खबर आज के इस प्रेरणादायक न्यूज़ ब्लॉग में -

Vaishali Garg
17 Nov 2022
First Woman Soldier Skydiver बनीं लांस नायक मंजू

First Woman Soldier Skydiver

First Woman Soldier Skydiver: भारतीय सेना में लांस नायक मंजू भारत की पहली महिला सैनिक स्काईडाइवर बन गई हैं। मंजू ने मंगलवार को 10,000 फीट की ऊंचाई से एएलएच ध्रुव हेलिकॉप्टर (एडवांस्ड लाइट हेलीकॉप्टर) से छलांग लगाई और ऐसा करने वाली वह पहली महिला सैनिक होने का रिकॉर्ड बनाया। पूर्वी कमान ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर मंजू को उनकी उपलब्धि पर बधाई दी और कहा, "यह प्रेरक कार्य सेना में अन्य महिलाओं के लिए एक उदाहरण साबित करेगा।"

First Woman Soldier Skydiver: पहली महिला सैनिक स्काईडाइवर बनीं लांस नायक मंजू

एशियन न्यूज इंटरनेशनल की एक रिपोर्ट के अनुसार, लांस नाइक मंजू सैन्य पुलिस के कोर से हैं और इस छलांग के लिए भारतीय सेना के एडवेंचर विंग की स्काईडाइविंग प्रशिक्षण टीम द्वारा प्रशिक्षित किया गया था।आपको बता दें की भारतीय सेना में महिलाओं के कार्यभार संभालने और अपना सर्वश्रेष्ठ पैर आगे बढ़ाने के कई उदाहरण हैं।

आपको बता दें की मई 2022 में कैप्टन अभिलाषा बराक ने भारतीय सेना में पहली महिला कॉम्बैट एविएटर बनकर इतिहास रचा था। कैप्टन अभिलाषा नासिक में कॉम्बैट आर्मी एविएशन ट्रेनिंग स्कूल में आयोजित एक समारोह में ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की। समारोह के दौरान, उसने अपनी उपलब्धि का श्रेय इस तथ्य को दिया कि वह देश भर में सैन्य छावनियों में पली-बढ़ी है और इसलिए सेना में शामिल होना उनके लिए स्वाभाविक रूप से आया था।

इन्होंने आर्मी एयर डिफेंस यंग ऑफिसर्स कोर्स में 'ए' ग्रेड और एयर ट्रैफिक मैनेजमेंट और एयर लॉ कोर्स में 75.70 प्रतिशत हासिल किया।  इतना ही नहीं, कैप्टेन अपने पहले ही प्रयास में प्रमोशनल परीक्षा पार्ट बी भी पास कर ली थी।


अनुशंसित लेख