न्यूज़

जलवायु कार्यकर्ता लिसीप्रिया कंगुजम ने ऑक्सीजन सिलेंडर दान करने के लिए सेविंग्स खर्च की

Published by
Ayushi Jain

मणिपुर से नौ वर्षीय क्लाइमेट एक्टिविस्ट लिसीप्रिया कंगुजम भारत को मेडिकल सप्लाइज दान करने वाला नया युवा चेहरा बन गयी है। रिपोर्ट्स के अनुसार कंगुजम को पूर्व में “भारत का ग्रेटा” कहा जाता था, उस पर आपत्ति जताते हुए, टीनएज एक्टिविस्ट ने देश की ऑक्सीजन क्राइसिस से निपटने के लिए अपनी सेविंग्स से ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदे हैं।

कंगुजम, जिन्हें अक्सर एयर पॉल्युशन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते देखा जाता है। वह अपने ट्विटर अकाउंट पर गई और उन्होंने सूचित किया, “5 लीटर ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर के 10 यूनिट अगले कुछ दिनों में भारत पहुंचेंगे, जिसमें शिपिंग सहित लगभग 50,000 प्रति पीस खर्च होता है। कुल 100 टुकड़े का आर्डर दिया गया। ” उन्होंने आगे कहा कि वह अपनी सेविंग्स खर्च करके देश की मदद करने की पूरी कोशिश कर रही हैं। उन्होंने पिछले साल मिले पुरस्कारों से अधिक धन जुटाया। “सर्वश्रेष्ठ की आशा है,” उन्होंने यह कामना की।

कंगुजम ने मंगलवार को ताइवान सरकार से कोरोनोवायरस के मामलों में भारत के भारी उछाल का सामना करने में सहायता प्रदान करने का आग्रह किया। नौ साल के बच्चे ने पहले गुहार लगाई थी, “सिर्फ 100 ऑक्सिजन कॉन्सेंट्रेटर काफी नहीं है। अधिक खरीदने के लिए मेरी मदद करने के लिए कृपया यहां दान करें। भारत मर रहा है। ” उन्होंने सभी से आग्रह किया कि वे भारत के लोगों को दान करें और ऑक्सीजन की कमी से बचाएं।

कौन है लिसीप्रिया कंगुजम ?

नौ साल की उम्र में, कंगुजम दुनिया की सबसे कम उम्र की क्लाइमेट एक्टिविस्ट में से एक है। उन्होंने 2015 में नेपाल में एक घातक भूकंप में जीवित बचे लोगों के लिए एक फण्ड रेजिंग प्रोग्राम में हिस्सा लिया था। वर्ष 2018 में अपने पिता के साथ मंगोलिया में यूनाइटेड नेशंस के आपदा सम्मेलन में भाग लेने के बाद उनका संकल्प और भी मजबूत हो गया। 2019 के जून में, कंगुजम ने भारतीय संसद भवन के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को एक भारतीय क्लाइमेट चेंज कानून पास करने के लिए दबाव डालने के लिए, जो उनके अनुसार समय की आवश्यकता थी। उसी साल अगस्त में, उन्हें विश्व बाल शांति पुरस्कार मिला और पिछले साल अक्टूबर में अर्थ डे नेटवर्क द्वारा उन्हें राइजिंग स्टार की उपाधि से सम्मानित किया गया। उन्होंने एयर पॉल्युशन से लड़ने के लिए द चाइल्ड मूवमेंट की स्थापना भी की है। वह अब तक 21 देशों की यात्रा कर चुकी हैं और कई घटनाओं में उनके आंदोलन का हिस्सा रहीं।

Recent Posts

नीना गुप्ता की Dial 100 फिल्म के बारे में 10 बातें

गुप्ता और मनोज बाजपेयी की फिल्म Dial 100 इस हफ्ते OTT प्लेटफार्म पर रिलीज़ हो…

14 mins ago

Watch Out Today: भारत की टॉप चैंपियन कमलप्रीत कौर टोक्यो ओलंपिक 2020 में गोल्ड जीतने की करेगी कोशिश

डिस्कस थ्रो में भारत की बड़ी स्टार कमलप्रीत कौर 2 अगस्त को भारतीय समयानुसार शाम…

1 hour ago

Lucknow Cab Driver Assault Case: इस वायरल वीडियो को लेकर 5 सवाल जो हमें पूछने चाहिए

चाहे लड़का हो या लड़की किसी भी व्यक्ति के साथ मारपीट करना गलत है। लेकिन…

1 hour ago

नीना गुप्ता की Dial 100 फिल्म कब और कहा देखें? जानिए सब कुछ यहाँ

यह फिल्म एक दुखी माँ के बारे में है जो बदला लेना चाहती है और…

2 hours ago

रिपोर्ट्स के मुताबित कोरोना की तीसरी लहर अक्टूबर में हो सकती है सीरियस

सरकार और साइंटिस्ट का कहना है कि कोरोना के मामले बढ़ना अगस्त से शुरू हो…

3 hours ago

This website uses cookies.