एक्टिविस्ट मलाला यूसुफजई अब ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की ग्रेजुएट हैं। उन्होंने ब्रिटेन में प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी से पॉलिटिक्स, फिलॉसफी और इकोनॉमिक्स में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है। सबसे कम उम्र की नोबेल पीस प्राइज विनर ने शुक्रवार को अपने इंस्टाग्राम पर अपने फॉलोवर्स के साथ ये खुशखबरी शेयर की।

image

उन्होंने एक केक काटकर, जिसपे लिखा था ‘हैप्पी ग्रेजुएशन मलाला’, इस ख़ुशी को मनाया।

पाकिस्तानी एजुकेशन एक्टिविस्ट मलाला, जो ऑक्सफोर्ड के लेडी मार्गरेट हॉल से अपनी डिग्री पूरी कर रही थी, ने भी पोस्ट में ये भी लिखा कि उन्हें नहीं पता कि वह आगे क्या करेगी लेकिन अभी के लिए वो सिर्फ नेटफ्लिक्स और चिल करेंगी।

और पढ़िए: जानिए मलाला युसुफ़ज़ई की बायोपिक गुल मकई के बारे में

केक और कंफ़ेद्दी के साथ अपनी ग्रेजुएशन की तस्वीर में नज़र आ रही मलाला ने पोस्ट में लिखा है, ” मेरे लिए ये ख़ुशी और कृतज्ञता ज़ाहिर करना मुश्किल हो ररहा ही है क्यूंकि मैंने अभी फिलॉसफी, पॉलिटिक्स और इकोनॉमिक्स की डिग्री पूरी की है।”

“मुझे नहीं पता कि आगे क्या करना है। अभी के लिए, सिर्फ नेटफ्लिक्स, रीडिंग और स्लीप होगा, ”22 साल की मलाला ने आगे कहा।

उनकी अचीवमेंट्स: क्यों युवा महिलाएं मलाला यूसुफज़ई को प्रेरणादायक मानती हैं

अक्टूबर 2012 में, मलाला को सिर में गोली लगी थी, लेकिन वो बच गई और आखिरकार रिकवर हो गई। तालिबान के हमले के बाद, वह लड़कियों की शिक्षा के लिए एक एक्टिव एडवोकेट बन गई। वह मलाला फंड की को – फाउंडर भी हैं, जो इसी कारण के लिए नॉन – प्रॉफिट आर्गेनाईजेशन है।

2018 में, मलाला को लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के ग्राउंड-ब्रेकिंग वर्क के लिए हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से एक पुरस्कार मिला था। कई अवसरों पर, उन्होंने भारत और पाकिस्तान में एक जैसे मुद्दों पर चिंता व्यक्त की है, जिसमें उन्होंने बताया गया है कि दोनों देशों को सोशल जस्टिस के लिए क्यों लड़ना चाहिए। “जब हम भारत और पाकिस्तान के भविष्य के बारे में बात करते हैं, तो हमें अपनी लड़कियों में भी इन्वेस्ट करना होगा क्योंकि वे भविष्य हैं। जब हम इन लाखों लड़कियों को शिक्षा नहीं देकर उन्हें इग्नोर करते हैं तो हम अपने भविष्य को बेहतर और उज्जवल कैसे बना सकते हैं? जब हम लड़कियों को शिक्षित करते हैं, तो हम उन्हें केवल इंडिविजुअल रूप से शिक्षित नहीं, बल्कि हम उन्हें सशक्त भी बनाते हैं और हम उन्हें खुद के लिए कमाने का अवसर देते हैं, ”उन्होंने पिछले साल वर्ल्ड इकनोमिक फोरम में बोलते हुए कहा था।

Email us at connect@shethepeople.tv