दिल्ली चुनाव 2020 में आम आदमी पार्टी की क्लीन स्वीप जीत में एक महिला ने बड़ी भूमिका निभाई है। आतिशी मार्लेना ने कालकाजी विधानसभा सीट से भाजपा के धर्मबीर सिंह के खिलाफ जीत हासिल की। लेकिन उन्हें इतने वोट और प्रशंसा इसलिए मिली क्योंकि आतिशी ने दिल्ली पब्लिक स्कूल के सिस्टम को ठीक करने का मुश्किल काम किया। कुछ मामलों में, रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली के कुछ स्कूल अब प्राइवेट सेक्टर की शिक्षा के बराबर हैं – वर्तमान राजनीतिक व्यवस्था में शायद ही कोई ऐसा दावा कर सकता है।

image

आतिशी दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया की पूर्व सलाहकार हैं। उन्होंने  हमेशा पब्लिक पालिसी में इंटरेस्ट लिया है एक रोड्स स्कॉलर के रूप में वह ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी गई। वह मानती हैं कि यह ज़रूरी है कि सभी समुदायों के लोग उस काम को पहचानें जो उनकी पार्टी ने विशेष रूप से शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्र में किया है। वह कहती है, कि उनके लिए यह जीत पार्टी द्वारा जमीनी कार्य का एक बेसिक उदाहरण है।

अतीशी ने कालकाजी में सिंह के खिलाफ 55897 वोटों के साथ जीत हासिल की। अतीशी के लिए यह 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद एक बड़ी जीत के रूप में आता है जो उन्होंने पूर्वी दिल्ली से गौतम गंभीर के खिलाफ लड़ी थी और हारी जो उनके लिए एक बड़ी हार थी।

आतिशी की क्वालिफिकेशन 

आतिशी ने कई पोस्ट्स पर काम किया है। उन्होंने जुलाई 2015 से 17 अप्रैल, 2018 तक शिक्षा सलाहकार के रूप में कार्य किया। वह 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के घोषणापत्र को तैयार करने में भी शामिल रही हैं। वह लक्ष्मी नगर मेट्रो स्टेशन के पास विकास मार्ग में पार्टी के ऑफिस से बाहर काम करती है। 2013 में पार्टी के स्पीकर के रूप में अप्पोइंटेड , वह तब से टीवी पर होने वाली बहसों में पार्टी का हिस्सा बनी रही हैं।

जून 1981 में जन्मीं आतिशी ने अपनी स्कूली शिक्षा नई दिल्ली के स्प्रिंगडेल्स स्कूल से की। उन्होंने  सेंट स्टीफंस कॉलेज में इतिहास की पढ़ाई की और बाद में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में मास्टर ऑफ ए चीवनिंग स्कालरशिप प्राप्त की। रोड्स के रूप में ऑक्सफोर्ड से अपनी दूसरी मास्टर डिग्री के साथ, वह एजुकेशनल रिसर्च में एक स्कॉलर बन गई।

आतिशी का पोलिटिकल सफर

जनवरी 2013 में, वह आप  के लिए पालिसी फार्मूलेशन में शामिल हो गई। आतिशी पार्टी की अपैक्स एग्जीक्यूटिव बॉडी, राजनीतिक मामलों की समिति के सदस्य के रूप में कार्य करती है। दिल्ली के शिक्षा मंत्री की सलाहकार के रूप में, उन्होंने एजुकेशन सेक्टर में सुधार लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है ।

उन्होंने दिल्ली सरकार के एनसीटी के लिए प्रमुख मोहल्ला सभा प्रोजेक्ट को भी हेड किया। उन्होंने प्रसिद्ध रूप से दिल्ली सरकार के लिए एक रुपये प्रति माह की इनकम पर भी काम किया, इससे पहले कि वह अप्रैल, 2018 में केंद्र में सरकार द्वारा हटा दी गई थी।

Email us at connect@shethepeople.tv