असम की नाबालिग लड़की को राजस्थान में बेचा: मुस्लिम लड़की की जबरन कराई शादी, यहाँ जाने ये 10 बातें

असम की नाबालिग लड़की को राजस्थान में बेचा: मुस्लिम लड़की की जबरन कराई शादी, यहाँ जाने ये 10 बातें असम की नाबालिग लड़की को राजस्थान में बेचा: मुस्लिम लड़की की जबरन कराई शादी, यहाँ जाने ये 10 बातें

SheThePeople Team

24 Sep 2021


Minor Girl From Assam Sold In Rajasthan: राजस्थान के बाड़मेर जिले से एक बेहद शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। असम से पिछले साल से लापता एक 14 वर्षीय नाबालिग लड़की को CWC ने बाड़मेर जिले से किया रेस्क्यू। लड़की पिछले साल जनवरी से ही अपने परिवार से दूर राजस्थान में यौन शोषण का सामना कर रही थी।

Minor Girl From Assam Sold In Rajasthan: यहाँ जानिए मामले से जुड़ी ये 10 बातें



  • इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, राजस्थान के बाड़मेर पुलिस स्टेशन के एसएचओ ललित किशोर ने एक नाबालिग को रेस्क्यू किया है।

  • एसएचओ ने बताया, '13 सितंबर की रात को जब हमें मामले की जानकारी मिली तो हम लड़की की तलाश में उस व्यक्ति के घर गए। वह आदमी वहां नहीं मिला।'

  • जैसे ही नाबालिग लड़की को पता चला कि पुलिस आ गई है, तो वह पुलिस के पास दौड़ी और उन्हें अपनी आपबीती के बारे में बताया।

  • रिपोर्ट के मुताबिक़ लड़की मुस्लिम थी और उसकी जबरन हिन्दू धर्म में शादी करा दी गई। 14 वर्षीय का काफी समय तक यौन उत्पीड़न किया गया, इस दौरान लड़की ने एक बेटे को जन्म भी दिया था।

  • लड़की ने पुलिस को बताया कि उसे बेच दिया गया था और बाड़मेर के आदमी से उसकी जबरन शादी कराई गई थी। लड़की को उसके माता पिता के पास नहीं जाने दिया क्योंकि आदमी उसे धमकाता था और उसे कहता था कि उसने पैसो से उसे खरीदा है।

  • लड़की ने पुलिस को दिए बयान में कहा, "मैं अपने घर से एक दोस्त के साथ निकली थी। तभी मुझे नशीला पदार्थ देकर दिल्ली लाया गया। वहां, अजनबियों के साथ उसे छोड़ दिया गया, जिन्होंने माता-पिता को जान से मारने की धमकी दी और बाड़मेर के व्यक्ति से शादी करने के लिए मजबूर किया।"

  • लड़की ने खुद पर हुई हिंसा को लेकर कहा कि "अगर मैं फोन पर किसी से बात करती हूं, तो वह मुझे पीटना शुरू कर देता है। मुझे कमरे में बंद रखता है और कहता है कि अगर मैं गयी या किसी से बात की, तो वह मुझे मार डालेगा।

  • नाबालिग ने एक दिन मौका देख कर अपने भाई को फ़ोन किया था जिसके बाद पुलिस उसे बचाने आई। "उस आदमी ने कई महीनों तक मुझे किसी से बात नहीं करने दी। एक दिन मैं अपने भाई को फोन करने में कामयाब रही। भाई को पूरी घटना के बारे में बताया।" पीड़िता ने कहा।

  • असम के धुबरी जिले में पुलिस ने यह मामला धारा 366 ए के तहत दर्ज किया है।

  • अभी तक मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।


अनुशंसित लेख