Miss World 2021 Postponed: भारत की मनासा वाराणसी और 16 अन्य को कोरोना होने के बाद पोस्टपोनड हुआ मिस वर्ल्ड 2021

Miss World 2021 Postponed: भारत की मनासा वाराणसी और 16 अन्य को कोरोना होने के बाद पोस्टपोनड हुआ मिस वर्ल्ड 2021 Miss World 2021 Postponed: भारत की मनासा वाराणसी और 16 अन्य को कोरोना होने के बाद पोस्टपोनड हुआ मिस वर्ल्ड 2021

SheThePeople Team

17 Dec 2021


Miss World 2021: कई कंटेस्टेंट्स के कोविड पॉजिटिव आने के बाद मिस वर्ल्ड 2021 का फिनाले को पोस्टपोनड कर दिया गया है। कार्यक्रम शुरू होने से कुछ घंटे पहले गुरुवार को यह घोषणा की गई। कंटेस्टेंट्स फिलहाल प्यूर्टो रिको में आइसोलेशन में हैं, जहां फिनाले होने वाला था।

''एक ऑफिसियल ने बयान में कहा की, "कंटेस्टेंट्स के बीच बढ़ते कोविड मामलों को ध्यान में रखते हुए, मिस वर्ल्ड ऑर्गनाइजेशन ने मिस वर्ल्ड फिनाले को पोस्टपोनड करने का निर्णय लिया है।"

Miss World 2021: 17 कंटेस्टेंट और स्टाफ सदस्यों को कोरोना हुआ है

17 कंटेस्टेंट्स और स्टाफ सदस्यों के कोरोना होने के बाद यह निर्णय लिया गया। इन्फेक्टेड लोगों में मनासा वाराणसी भी शामिल हैं, जिन्हें मिस इंडिया वर्ल्ड 2020 का ताज पहनाया गया था, और वह इंटरनेशनल ब्यूटी पेजेंट में भारत को रिप्रेसेंट करेंगी।

मिस इंडिया ऑर्गनाइजेशन ने अपने ऑफिसियल इंस्टाग्राम पेज पर कहा, "हमें इस बात पर बहुत दुःख है, कि मनसा वाराणसी अपनी कड़ी मेहनत और डेडिकेशन के बावजूद वर्ल्ड स्टेज पर नहीं पहुंच पाएंगी, हालांकि उनकी सुरक्षा हमारे लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। हम मनसा का घर वापस स्वागत करने, और उसे वापस स्वस्थ करने और खुशहाल वापस भेजने के लिए इंतजार नहीं कर सकते।"

फिनाले ब्रॉडकास्ट होगा अगले 90 दिनों के भीतर

फिनाले ब्रॉडकास्ट अगले 90 दिनों के भीतर प्यूर्टो रिको कोलिज़ीयम जोस मिगुएल एग्रेलॉट में सुरु किया जाएगा। मिस वर्ल्ड ऑर्गनाइजेशन ने कहा कि इवेंट को पोस्टपोनड करने का निर्णय वायरोलॉजिस्ट और मेडिकल एक्सपर्ट के साथ बैठक के बाद लिया गया था, जो इस इवेंट की देखरेख के लिए अप्पोइंट किए गए थे।

हेल्थ ऑफिसियल और एक्सपर्ट के साथ बात करने के बाद आज सुबह बाकि पॉजिटिव केसेस की पुष्टि होने के बाद, पोस्टपोनड का निर्णय लिया गया। हेल्थ अथॉरिटीज द्वारा मंजूरी मिलने के बाद ही कंटेस्टेंट्स को घर लौटने की अनुमति दी जाएगी।

"मेडिकल एक्सपर्ट के अनुसार अगला कदम क्वारंटाइन, पेंडिंग ऑब्जरवेशन, और इस तरह की स्थितियों में टेस्टिंग करना सबसे उचित तरीका है। जब हेल्थ अथॉरिटीज और कंसल्टेंट्स द्वारा कंटेस्टेंट्स और स्टाफ को मंजूरी दे दी जाएगी , तो कंटेस्टेंट्स और संबंधित स्टाफ वापस आ जाएंगे अपने गृह देश, “ऑफिसियल ने कहा।


अनुशंसित लेख