अहमदाबाद के अस्पताल में मिला मां-बेटी का शव, पुलिस को Murder की आशंका

अहमदाबाद के अस्पताल में मिला मां-बेटी का शव, पुलिस को Murder की आशंका। मां बेटी दोनों गई थी दांत का इलाज कराने। जानिए पूरी खबर न्यूज़ ब्लॉग में-

Vaishali Garg
22 Dec 2022
अहमदाबाद के अस्पताल में मिला मां-बेटी का शव, पुलिस को Murder की आशंका

Mother Daughter Found Dead In Ahmedabad

एक महिला और उसकी मां की किसी ने हत्या कर दी और उनके शव अहमदाबाद के एक निजी अस्पताल के दो अलग-अलग कमरों में पाए गए। पुलिस के माने तो मां और बेटी दोनों की मौत सुनिश्चित करने के लिए उनका गला घोंटने से पहले इंजेक्शन लगाए गए होंगे दोनों को। 21 दिसंबर की सुबह अहमदाबाद में एक 30 वर्षीय महिला और उसकी मां डेंटल चेकअप के लिए गए थे अस्पताल। उनके शव अहमदाबाद के मणिनगर पड़ोस में एक निजी अस्पताल के दो अलग-अलग कमरों में पाए गए।

Mother Daughter Found Dead In Ahmedabad

आपको बता दें की मृतकों की पहचान भारती वाला और उसकी मां चंपा के रूप में हुई है। भारती के भाई के अनुसार दोनों सुबह-सुबह दांत का इलाज कराने के लिए घर से निकले थे। पुलिस ने दावा किया कि दोनों महिलाओं में से किसी ने भी उस अस्पताल में कोई निर्धारित प्रक्रिया या अप्वाइंटमेंट नहीं लिया था जहां उनके शव पाए गए थे। पुलिस ने बताया, यह घटना तब सामने आई जब अस्पताल के अंदर से बदबू आने लगीं, जो भूलाभाई पार्क के करीब स्थित है और अहमदाबाद में कागडापीठ पुलिस स्टेशन के नियंत्रण में है। आपको बता दें की अस्पताल के ऑपरेशन रूम में एक अलमारी में भारती का शव था।

अहमदाबाद के अस्पताल में मिला मां-बेटी का शव, पुलिस को Murder की आशंका

अस्पताल द्वारा घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू की। जब एक टीम अस्पताल पहुंची और सीसीटीवी फुटेज को देखना शुरू किया तो उन्होंने पाया कि भारती के साथ एक अन्य महिला भी अस्पताल आई थी। जब उस पुलिस टीम ने इलाके में तलाशी शुरू की तो दूसरी महिला जो भारती की मां थी अस्पताल की दूसरी मंजिल पर एक कमरे के बिस्तर के नीचे मृत पाई गई थी। पुलिस को यह भी पता चला कि दोनों महिलाओं के अस्पताल में प्रवेश करने के बाद एक घंटे तक सीसीटीवी कैमरे बंद रहे।

पुलिस के मुताबिक मां के शरीर पर गला दबाने के कई निशान थे। फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) की टीम ने भी वहां पहुंचकर सैंपल लिए। दो महिलाओं की मौत का कारण पोस्ट-मॉर्टम रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद ही निर्धारित किया जा सकेगा, भले ही एफएसएल ने कहा है कि वह दोनों को कुछ इंजेक्शन लगाया गया था और पुलिस का मानना ​​है कि उन्हें एनेस्थेटिक ओवरडोज से मार दिया गया था। अभी तक इस मामले की अतिरिक्त जांच की जा रही है।


Read The Next Article