नीना गुप्ता ऑटोबायोग्राफी- नीना गुप्ता की डिज़ाइनर बेटी मसाबा ने बताया कि जब मसाबा का जन्म हुआ उस वक़्त नीना फाइनेंसियली काफी मुश्किल वक़्त से गुज़र रही थीं। नीना की 14 जून को ऑटोबायोग्राफी आने वाली है और इस का ही लिखा हुआ मसाबा ने शेयर किया और बताया कि कैसे डिलीवरी के वक़्त नीना के पास सी-सेक्शन के लिए 10000 रुपए तक नहीं थे ।

मसाबा ने नीना की ऑटोबायोग्राफी को लेकर क्या कहा ?

मसाबा ने बुक के एक पैराग्राफ की फोटो शेयर की जिस में लिखा था ” कि मेरी डिलीवरी डेट आने वाली थी और मेरे अकाउंट में सिर्फ 2000 रुपये थे जिस से में सिर्फ नेचुरल जन्म ही दे सकती थी। अगर किसी परेशानी के चलते मुझे सी – सेक्शन करवाना पढता तो मेरे पास पैसे नहीं थे। लकीली तब ही एक टैक्स की भरपाई आ गयी 9000 रुपए की और मेरे अकाउंट में 12000 रुपए हो गए। अच्छा हुआ ये पैसे आ गये क्योंकि डॉक्टर ने कहा था कि उनको सी – सेक्शन करवाना पड़ सकता है। ”

नीना की ऑटोबायोग्राफी बुक किस बारे में है ?

इस किताब में बताया गया है कि कैसे नीना ने एक सिंगल मदर बनाकर अप्न्मे बच्चों को पाला। जब ये मुंबई आयी थीं तब इनका जीवन कैसा था। ये हमेशा से ही बिना पति के मुंबई में अकेली रही हैं। इनकी ज़िन्दगी में इन्होंने कई बड़े बड़े ख़िताब जीते हैं और काफी चीज़ें सही हैं। पब्लिशर ने सभी कुछ खुलकर कहा है।

कोरोना के चलते 1 साल से ऊपर हो चुका है और हम सभी लॉकडाउन में घरों में बंद होकर अपना समय काट रहे हैं। जानी मानी एक्ट्रेस नीना गुप्ता भी लॉकडाउन के वक़्त पिछले साल उनके मुख्तेश्वर वाले घर में अपने हस्बैंड के साथ थीं। ये कपल साथमें अपने हॉलिडे होम में रुके थे।

नीना की पर्सनल लाइफ कैसी है ?

नीना के हस्बैंड का नाम है विवेक महरा और ये एक चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं। यशादी के बाद ये कभी साथ नहीं रह पाए हैं। नीना मुंबई में रहती थी और विवेक दिल्ली में। ये लॉक डाउन में पहली बार साथ में रहे हैं इनके मुक्तेश्वर के घर में ।नीना ने कहा उन्हें पहली बार पति पत्नी की तरह रहकर बहुत अच्छा लगा।

Email us at connect@shethepeople.tv