आज कल ज़्यादातर चीज़ें डिजिटल होती जा रही हैं, चाहे फिर वो शॉपिंग हो फ़ूड ऑर्डरिंग हो या किसी से बातें करना हो । और इसी तरह कई ऐसे मोबाइल ऍप्लिकेशन्स भी आगये है जो हमे ऑनलाइन क्लासेज करने का भी ऑफर देते हैं । ट्रेडिशनल फेस तो फेस क्लासेज की जगह आज कल ऑनलाइन क्लासेज ज़्यादा ट्रेंड में हैं ।

image

1 . ऑनलाइन एक्सेस :

ऑनलाइन क्लासेज में अपने कोर्स मटेरियल, लेक्चर, असाइनमेंट्स को ओपन करने के लिए आपको सिर्फ कंप्यूटर और इंटरनेट कनेक्शन चाहिए । सिर्फ इतना ही नहीं, अलग अलग टाइप के एजुकेशनल मीडिया जैसे रिकार्डेड क्लासिस, प्रेजेंटेशन, इंटरव्यू, एम.सी.क्यू . लर्निंग प्रोसेस को ज़्यादा इंटरैक्टिव और एंगेजिंग बनाते हैं ।

2 . सेल्फ – डिसिप्लिन

ऑनलाइन स्टडी करने के लिए अधिक सेल्फ- मोटिवेशन और टाइम मैनेजमेंट स्किल्स की ज़रुरत होती है, क्यूंकि आप सारा टाइम खुद से ही स्पेंड करेंगे, आपका ध्यान वापिस पढ़ाई की ओरलाने के लिए कोई भी फिजिकली आपके पास नहीं होगा। आपका ऑनलाइन कोर्स आपको सिर्फ जियोलॉजी या पोएट्री नहीं सिखाएगा, बल्कि यह आपको अधिक सेल्फ – मोटिवेटेड होने में मदद करेगा, एक ऐसा फीचर जो आपको आपके वर्क प्लेस में काम करने में बहुत हेल्प करेगा ।

3 . खुद का लर्निंग एनवायरनमेंट :

आप अपना लर्निंग एनवायरनमेंट अपने अकॉर्डिंग बना सकते हैं। चाहे आप घर पर हो या दोस्त के घर आप अपना एक खुद का रूम बना सकते हैं जहा बैठके आप अपने होमवर्क असाइनमेंट्स कर पाएंगे । आपको किसी भी भीड़ भाड़ की जगह जैसे की क्राउडेड लाइब्रेरीज में जाने की ज़रुरत नहीं पड़ेगी । अगर आप थोड़े शाय टाइप के हैं तो आपको दुसरो के साथ इंटरैक्ट करने की भी ज़रूरत नहीं पड़ेगी ।

4 . ईको फ्रेंडली

आपको अपने कॉलेज या यूनिवर्सिटी तक पहुँचने के लिए कोई भी बस, कार या किसी भी ट्रांसपोर्ट की ज़रुरत नहीं पड़ेगी। इससे आपके गैस और व्हीकल मेंटेनेंस के पैसे भी बचेंगे ।

5 . लोकेशन

ज़्यादातर बच्चों को पढाई करने के लिए अपने घर से दूर रहना पड़ता है । पर अगर आप ऑनलाइन क्लासेज लेते है तो आप अपने घर पे रहके भी पढ़ाई कर सकते हैं ।

Email us at connect@shethepeople.tv