Advertisment

मिलिए प्रिया सरोज से, मछलीशहर की सबसे युवा लोकसभा विजेता

मछलीशहर से 25 वर्षीय प्रिया सरोज ने लोकसभा चुनाव जीतकर इतिहास रचा। तीन बार के सांसद तूफानी सरोज की बेटी, प्रिय ने भाजपा के बीपी सरोज को 35,850 मतों से हराया। जानिए उनके जीवन और जीत की कहानी।

author-image
Vaishali Garg
New Update
प्रिय सरोज

Meet Priya Saroj: The Youngest Lok Sabha Winner from Machhlishahr: समाजवादी पार्टी (एसपी) ने हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में नई रणनीति अपनाते हुए सफलता हासिल की है। राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में एसपी ने प्रमुख राजनीतिक परिवारों से युवा उम्मीदवारों को मैदान में उतारा और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कब्जे वाली तीन सीटों पर जीत दर्ज की। मंगलवार, 4 जून को घोषित इस जीत ने राजनीतिक परिदृश्य में एक महत्वपूर्ण बदलाव को दर्शाया, और एसपी की नई रणनीति की प्रभावशीलता को उजागर किया।

Advertisment

मिलिए प्रिया सरोज से, मछलीशहर की सबसे युवा लोकसभा विजेता

मछलीशहर से प्रिय सरोज की ऐतिहासिक जीत

एसपी की सबसे महत्वपूर्ण जीत मछलीशहर निर्वाचन क्षेत्र से आई, जहां 25 वर्षीय प्रिय सरोज ने विजय हासिल की। प्रिया सरोज, तीन बार के सांसद तूफानी सरोज की बेटी हैं, जिन्होंने मौजूदा भाजपा सांसद भोलानाथ (बीपी सरोज) को 35,850 मतों के अंतर से हराया। प्रिय सरोज ने कुल 451,292 मत प्राप्त किए। वहीं, बसपा के कृपा शंकर सरोज ने 157,291 मत प्राप्त किए। अन्य नौ उम्मीदवारों ने उल्लेखनीय प्रभाव नहीं छोड़ा, और उनमें से प्रत्येक को "उपरोक्त में से कोई नहीं" (NOTA) विकल्प से भी कम मत मिले, जिसमें 9,303 मत थे।

Advertisment

प्रिया सरोज कौन हैं?

प्रिया सरोज की पेशेवर पृष्ठभूमि कानून व्यवसाय में है, जो उन्होंने भारत निर्वाचन आयोग के साथ दायर अपने चुनावी शपथपत्र में घोषित की है और लोकतांत्रिक सुधार संघ (ADR) द्वारा 2024 लोकसभा चुनावों के लिए विश्लेषण की गई है। 25 साल की उम्र में, वह एक स्नातक पेशेवर हैं जिनकी कुल घोषित संपत्ति 11.3 लाख रुपये है। ये सभी संपत्तियाँ चल संपत्ति हैं, और कोई अचल संपत्ति सूचीबद्ध नहीं है। उन्होंने कुल आय को शून्य घोषित किया है, जिसमें कोई स्वयं की आय नहीं है, और उनकी कुल देनदारियाँ भी शून्य हैं। हालाँकि, उनके चुनावी शपथपत्र में दो आपराधिक मामलों का उल्लेख किया गया है।

नई पीढ़ी के युवा विजेता

Advertisment

प्रिया सरोज, पुष्पेंद्र सरोज और शांभवी चौधरी ने 25 वर्ष की आयु में लोकसभा चुनाव जीतकर इतिहास रचा है। पुष्पेंद्र सरोज ने कौशाम्बी निर्वाचन क्षेत्र में अपनी जीत दर्ज की, जबकि प्रिय सरोज ने मछलीशहर में और शांभवी चौधरी, एनडीए उम्मीदवार, ने उत्तर बिहार के समस्तीपुर निर्वाचन क्षेत्र में विजय प्राप्त की।

मछलीशहर: प्रिया सरोज का प्रतिनिधित्व करने वाला निर्वाचन क्षेत्र

मछलीशहर, जिसे प्रिया सरोज अब प्रतिनिधित्व करती हैं, उत्तर प्रदेश का एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है। यह भारत के उत्तर क्षेत्र में और उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल क्षेत्र के भीतर आता है। यह निर्वाचन क्षेत्र जौनपुर और वाराणसी जिलों के हिस्सों को समाहित करता है। मछलीशहर एक ग्रामीण निर्वाचन क्षेत्र है और अनुसूचित जातियों के उम्मीदवारों के लिए आरक्षित है। यह सीट 2024 लोकसभा चुनावों के चरण 6 में शनिवार, 25 मई को मतदान में गई थी।

प्रिया सरोज की जीत न केवल उनके राजनीतिक कैरियर के लिए बल्कि समाजवादी पार्टी की रणनीति के लिए भी एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है। युवा और सक्षम उम्मीदवारों को मैदान में उतारने की पार्टी की नीति ने स्पष्ट रूप से मतदाताओं के बीच सकारात्मक प्रभाव डाला है। मछलीशहर की जनता ने एक युवा और नई सोच वाले प्रतिनिधि को चुनकर अपनी उम्मीदें और विश्वास व्यक्त किया है।

प्रिय सरोज Lok Sabha Winner Youngest Lok Sabha Winner Machhlishahr
Advertisment