Siddhu Moosewala Death: परिवार ने पोस्टर्माटम करने से किया इंकार

Siddhu Moosewala Death: परिवार ने पोस्टर्माटम करने से किया इंकार Siddhu Moosewala Death: परिवार ने पोस्टर्माटम करने से किया इंकार

Sanjana

30 May 2022

सिद्धू की फैमिली ने पोस्टमॉर्टेम कराने से मना कर दिया है और वो इस मामले में स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम पर भरोसा नहीं कर रहे हैं। परिवार वालों का कहना है कि वो नेशनल इन्वेस्टीगेशन एजेंसी यानि कि NIA से जांच चाहते हैं ताकि उनके बेटे को इंसाफ मिल सके।  

29 मई, रविवार को दिनदहाड़े सिद्दू मूसे वाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उनके शरीर में लगातार 10 गोलियां दागी गई। सिद्धू मूसे वाला एक वर्ल्ड वाइड प्रसिद्ध पंजाबी सिंगर है। उन्होंने पिछले ही साल नवंबर में पंजाब की कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ली थी। उन्होंने मनसा नाम के गांव से चुनाव लड़ा था। 

सिद्धू मूसे वाला उन 424 वीआईपी लोगों में से हैं जिन्हें पंजाब सरकार द्वारा सिक्योरिटी टीम मुहैया कराई गई थी। लेकिन हाल ही में यह कानून वापस ले लिया गया। इसके चलते सिक्योरिटी छिन जाने के एक दिन बाद ही उन्हें गोलियों से दाग दाग कर दिया गया। मनसा के अस्पताल तक पहुंचने से पहले ही उनकी मृत्यु हो गई।

सिद्धू बहुत ही प्रसिद्ध पंजाबी सिंगर रहे हैं। उनकी फैन फॉलोइंग भी बहुत ज़्यादा रही। उनकी मौत से उनके परिजन और फैंस को बहुत बड़ा धक्का लगा है। उनकी मौत का जिम्मेदार पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान और आप सरकार को ठहराया जा रहा है। सिद्धू मूसेवाला पहले ही कई विवादों के चलते सुर्खियों में रहे हैं। 

सिद्धू पर गन कल्चर को बढ़ावा देने के आरोप लगाए जा चुके हैं। सिद्धू के घर के बाहर पुलिस की एक बडी टीम को सुरक्षा के लिए तैनात कर दिया गया है। सिद्धू की हत्या की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है । उनकी मौत का इल्ज़ाम राजस्थान की बिश्नोई गैंगस्टर गैंग ने अपने ऊपर ले लिया है।

क्यों हुई सिद्धू की हत्या?

डीजीपी वीके भावरा का कहना है कि सिद्धू मूसे वाला की सुरक्षा पूरी तरह से वापस नहीं ली गई थी। उनके पास दो बॉडीगार्ड और बुलेट प्रूफ कार मौजूद थी। लेकिन उन्होंने उस दिन अपने बॉडीगार्ड को साथ ले जाने से मना कर दिया और बुलेट प्रूफ कार को भी अपने साथ लेकर नहीं गए। 

ऐसा कहा जा रहा है कि मोहाली में हुए दंगों में गैंगस्टर बिश्नोई का कोई करीबी मारा गया था। जिसकी हत्या में सिद्धू के मैनेजर का नाम सामने आया। इसकी दुश्मनी निकालने के लिए हो सकता है कि गैंगस्टर बिश्नोई ने सिद्धू की सरेआम गोलियां मारकर हत्या करवा दी। उनकी हत्या में AN-94 का पहली बार इस्तेमाल हुआ। यह रशिया में बनी राइफल है। उनकी हत्या में 8 से 9 लोग शामिल थे। ऐसा भी कहा जा रहा है कि सिद्धू के अंडरवर्ल्ड से भी काफ़ी गहन कनेक्शन थे।

कौन हैं सिद्धू मूसवाला?

सिद्धू मूसे वाला एक प्रसिद्ध पंजाबी सिंगर और राजनीतिज्ञ हैं। यह कांग्रेस के सदस्य रह चुके हैं। उनकी उम्र 28 साल थी। उन्होने पंजाब के गुरु नानक इंजीनियरिंग कॉलेज से इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। उनकी माता जी गांव की सरपंच हैं। वह जवाहर के गांव के रहने वाले हैं।

अनुशंसित लेख