टी एंड सी | गोपनीयता पालिसी

संचालित द्वारा Publive

Rajasthan Proud Bride: राजस्थान में लड़की ने 75 लाख के दहेज़ के पैसों से गर्ल्स हॉस्टल बनवाने का फैसला लिया

Rajasthan Proud Bride: राजस्थान में लड़की ने 75 लाख के दहेज़ के पैसों से गर्ल्स हॉस्टल बनवाने का फैसला लिया
SheThePeople Team

26 Nov 2021

इस लड़की का नाम है अंजलि और यह राजस्थान की रहने वाली हैं। जब इनकी शादी हो रही थी तब इनके पिता 75 लाख रूपए दहेज़ के लिए दे रहे थे। शादी से ठीक पहले अंजलि अपने पिता के पास जाती हैं और कहती हैं कि दहेज़ के पैसों से वो गर्ल्स हॉस्टल बनवाना चाहती हैं।

कौन हैं राजस्थान की यह दुल्हन?


इस दुल्हन का पूरा नाम है अंजलि कँवर और इनके पिता का नाम किशोर सिंह कानोड़ है। यह लड़कियों की शिक्षा प्रमोट करना चाहती थीं और इसके लिए इन्होंने अपने दहेज़ के पैसे अलग रखवाकर इन्हीं का इस्तेमाल करने को कहा। इन्होंने 21 नवंबर को प्रवीण सिंह से शादी की है। जब अंजलि शादी से पहले अपने पिता के पास जाकर इनकी गर्ल्स हॉस्टल खोलने की मांग रखती हैं तब इनके पिता मान जाते हैं और पूरे 75 लाख रूपए गर्ल्स हॉस्टल बनने के लिए दे देते हैं।

क्या है पूरी कहानी? 75 लाख के दहेज़ के पैसों से गर्ल्स हॉस्टल


अंजलि के इस कदम से सभी बहुत खुश हैं और इनकी सभी जगह सराहना की जा रही है। न्यूज़ के हिसाब से अंजलि ने एक खत के ज़रिये अपनी बात पिता से कही थी कि दहेज़ के पैसों से वो गर्ल्स हॉस्टल बनवाना चाहती हैं। इसके बाद इनके पिता ने यह खत सबके सामने जोरो शोरों से पड़ा और इसके बाद एक खाली चैक अंजलि को भरने के लिए दे दिया और कहा अपने मन से जितना भरना चाहती हो भर दो। शादी में मौजूद सभी लोग दुल्हन की इस सोच से बहुत खुश थे।

इस तरीके से अगर सभी सोचने लगे तो हमारे देश में लड़कियों को कोई भी दिक्कत झेलने की जरुरत नहीं पड़ेगी और वो बहुत खुश रहेंगी। पत्रिका की रिपोर्ट्स में ऐसा भी आया है कि अंजलि के पिता मिस्टर कानोड़ पहले ही इस हॉस्टल के निर्माण के लिए 1 करोड़ रूपए दे चुके थे लेकिन इसके बावजूद 75 लाख तक रूपए कम पड़ रहे थे। यह पैसे मिलने में अंजलि ने अपनी सूझ बूझ का इस्तेमाल किया और यह नेक काम किया।
अनुशंसित लेख