Viral News: जगन्नाथ मंदिर में भगदड़ जैसी स्थिति में 6 स्कूली छात्राएं घायल

जगन्नाथ मंदिर में भगदड़ जैसी स्थिति में 6 स्कूली छात्राएं घायल। छात्रों का 70 लोगों का ग्रुप क्रिसमस मनाने के लिए पुरी (Jagannath temple )में पिकनिक मनाने पहुंचा था। जानें पूरी खबर इस न्यूज़ ब्लॉग में-

Vaishali Garg
27 Dec 2022
Viral News: जगन्नाथ मंदिर में भगदड़ जैसी स्थिति में 6 स्कूली छात्राएं घायल

Jagannath temple se

Odisha: हृदयानंद हाई स्कूल रासगोविंदपुर मयूरभंज जिले के छात्रों के एक समूह ने सैर के लिए पवित्र मंदिर के शहर का दौरा किया, लेकिन कुछ के लिए उनकी क्रिसमस पिकनिक दुखद साबित हुई, जब मंदिर के अखाड़े में भगदड़ जैसी स्थिति पैदा हो गई। छात्रों का 70 लोगों का ग्रुप क्रिसमस मनाने के लिए पुरी (Jagannath temple )में पिकनिक मनाने पहुंचा था। जब वह शाम को लोकप्रिय जगन्नाथ पुरी मंदिर गए, तो उन्हें सीढ़ियों पर हंगामे का सामना करना पड़ा और समूह की छह लड़कियां फंस गईं और बेहोश हो गईं।

School Girls Injured In Stampede

रिपोर्ट्स के मुताबिक़, घायल होने वाली छह स्कूली लड़कियां मयूरभंज जिले के एक हाई स्कूल ग्रुप का हिस्सा हैं। पुलिस ने कहा कि ग्रुप सैर के लिए पुरी गया था। छात्रों ने पहले दिन के दौरान समुद्र तट का दौरा किया और फिर शाम को विश्व प्रसिद्ध जगन्नाथ पुरी मंदिर में दर्शन करने का फैसला किया।

मंदिर जो सदियों पहले स्थापित किया गया था वह पूरे वर्ष भर बड़ी संख्या में लोगों की मेजबानी करने के लिए लोकप्रिय है। जब ग्रुप ने शाम को मंदिर परिसर का दौरा किया तो वह सीढ़ियाँ चढ़ने लगे। जब वो लोग मुख्य मंदिर की ओर 22 सीढ़ियां चढ़ रहे थे, जिसे बैसी पहाचा भी कहा जाता है, उस समय यह घटना हुई। रात के लगभग 8 बजे थे जब 6 लड़कियों ने खुद को सीढ़ियों के ऊपर एक भारी भीड़ में पाया और जो हंगामा हुआ उससे उनका दम घुटने लगा। आपको बता दें की बच्चियां बेहोश होकर घायल हो गईं और बवाल के बीच स्थिति बेकाबू हो गई। लड़कियां कक्षा 9 और 10 की छात्रा हैं। घटना के तुरंत बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। पुलिस के बयान के अनुसार उनकी हालत अभी स्थिर है।

इससे पहले भी हो चुकी है इस प्रकार की घटनाएं

देश में समय-समय पर मंदिरों में भगदड़ जैसे हालात होते रहे हैं क्योंकि दिन भर पवित्र मंदिरों के परिसर में भारी भीड़ उमड़ती है। जनवरी 2005 में, महाराष्ट्र के सतारा जिले में मंधरदेवी मंदिर की वार्षिक तीर्थयात्रा में भगदड़ के दौरान सैकड़ों श्रद्धालु घायल हो गए और 340 से अधिक लोग मारे गए थे। यह घटना तब हुई थी जब लोगों का एक बड़ा समूह सीढ़ियों से नीचे गिर गया था, जो सीढ़ी क्षेत्र के पास भक्तों द्वारा नारियल तोड़े जाने के कारण फिसलन भरा हो गया था।

Read The Next Article