COVID-19 महामारी ने हमारे एजूकेशनल इंस्टिट्यूशन्स को काफी हद तक डिस्टर्ब किया है। इस सिचुएशन ने सामान्य तरीके से स्कूल और कॉलेज चलाना असंभव बना दिया है। हालांकि स्थिति अब पहले से बेहतर है और भारत में कई राज्य सरकारों ने अब स्कूल्स और कॉलेजेस को फिर से खोलने का फैसला किया है। कोरोना के चलते ये एजूकेशनल इंस्टिट्यूशन्स लगभग एक साल तक बन्द रहे। गृह मंत्रालय ने स्कूल और कॉलेजों को सभी COVID-19 नियमों का पालन करते हुए रेगुलर क्लासेस चलाने की मंजूरी दी है। भीड़भाड़ से बचने, नियमित रूप से हाथ धोने, सैनीटाईज़र्स का उपयोग करने, मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के नियम हर जगह माने जाएँगे।

जानिए किन राज्यों मे स्कूल्स और कॉलेजेस खुल रहे हैं –

मणिपुर

मणिपुर ने हाल ही में 27 जनवरी से कक्षा 9वीं -12वीं के लिए स्कूल्स और कॉलेजेस को फिर से खोलने का फैसला लिया है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री बिरेन सिंह की चेयरमैनशिप में कैबिनेट की बैठक में इस फैसले को मंजूरी दी गई। इन संस्थानों को पालन करने के लिए स्पेशल ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) की एक सूची भी जारी की गई है।

मिजोरम

मिजोरम के स्वास्थ्य मंत्री आर लालथंगलिया ने मिजोरम में कक्षा 10 और 12 के लिए स्कूल्स को फिर से खोलने के लिए अनुमति देदी है। ये फैसला 22 जनवरी से लागू किया जाएगा और इसमें स्कूल हॉस्टल खोलना भी शामिल है। इस कदम की घोषणा छात्रों की बोर्ड परीक्षा को ध्यान में रखकर उठाया गया है जो अप्रैल में होंगे। सभी छात्रों को रैपिड एंटीजन टेस्ट से गुजरना होगा और संबंधित अधिकारियों को टेस्ट रिपोर्ट दिखानी होगी।

हिमांचल प्रदेश

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 1 फरवरी से पारशिअल रूप से स्कूलों को फिर से खोलने का फैसला लिया है। पॉलिटेक्निक, इंजीनियरिंग और इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूशन्स भी इसी तारीख से शुरू होंगे।

चंडीगढ़

सरकारी स्कूल 1 फरवरी से कक्षा 6-8 के लिए रेगुलर क्लासेस शुरू कर देंगे। वीपी सिंह बदनोर ने पंजाब के स्कूल्स को शुरू करने के एक हफ्ते बाद चंडीगढ़ में इस कदम की घोषणा की। UT स्कूल के एजूकेशन डायरेक्टर रुबिंदरजीत सिंह बराड़ ने कहा, “शिक्षा विभाग जल्द ही इस विषय पर आदेश जारी करेगा। छात्रों को स्कूल जाने के लिए अपने माता-पिता की अनुमति अनिवार्य होगी।”

तमिल नाडु

तमिलनाडु के मुख्य सचिव शनमुगम ने SOP जारी किए हैं जिसके मुताबिक कक्षाओं में एक बार में 25 छात्र ही होंगे। हफ़्ते में छह दिन 19 जनवरी से स्कूल 10वीं और 12 वीं कक्षा के लिए फिर से शुरू होंगे। हालांकि, ऑनलाइन क्लासेस का उपयोग अभी भी किया जाएगा और छात्रों को अपने माता-पिता से एक कंसेट लेटर जमा करने के बाद ही ऑफलाइन क्लासेस लेने की अनुमति मिलेगी । इसके अलावा, स्कूलों को स्वच्छता बनाए रखने के लिए कहा गया है और छात्रों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा ज़िंक की गोलियाँ भी दी जाएंगी।

महाराष्ट्र

10 महीने की ईनैक्टिविटी के बाद, महाराष्ट्र में कक्षा 5 से 8 के लिए स्कूल 27 जनवरी से शुरू होंगे। हालांकि, इस नियम में मुंबई शहर को शामिल नहीं किया गया है जहाँ स्कूल और कॉलेजों को “further orders” तक बंद कर दिया गया है। कक्षा 9वीं से 12वीं तक के स्कूल और कॉलेज पहले ही चालू होगये थे।

दिल्ली

10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों की प्री बोर्ड परीक्षाओं ने दिल्ली सरकार को 18 जनवरी से स्कूलों को फिर से खोलने के लिए मजबूर किया है। स्कूल के प्रिंसिपल्स का कहना है कि इससे छात्रों को बोर्ड परीक्षा की तैयारी करने में बहुत मदद मिलेगी। हालाँकि, माता-पिता अभी भी इस मामले पर मिक्स्ड ओपिनियन रखते हैं।

पढ़िये: दिल्ली में 18 जनवरी से स्कूल्स खोलने की तैयारी चालू है

Email us at connect@shethepeople.tv