Who Was J Jamuna: पूर्व सांसद जे जमुना का 86 साल की उम्र में निधन

जे जमुना का राजनीतिक मोर्चे पर उनका करियर छोटा रहा। उन्होंने 1989 में लोकसभा चुनाव लड़ा और राजमुंदरी संसदीय क्षेत्र से जीत हासिल की। जानें अधिक जानकारी इस न्यूज़ ब्लॉग में -

Vaishali Garg
27 Jan 2023
Who Was J Jamuna: पूर्व सांसद जे जमुना का 86 साल की उम्र में निधन Who Was J Jamuna: पूर्व सांसद जे जमुना का 86 साल की उम्र में निधन

J Jamuna

Who Was J Jamuna: जे जमुना का आज निधन हो गया, वह एक अनुभवी तेलुगु फिल्म अभिनेता और पूर्व सांसद थीं। उनके परिवार के सदस्यों के अनुसार उम्र संबंधी समस्याओं के कारण संक्षिप्त बीमारी के बाद जे जमुना ने हैदराबाद में अपने आवास पर अंतिम सांस ली। जे जमुना वह 86 वर्ष की थीं। जे जमुना को श्रद्धांजलि के लिए फिल्म चैंबर ले जाया जाएगा और दिन के अंत तक अंतिम संस्कार किया जाएगा।

आपको बता दें की जे जमुना का राजनेता और एक्टर के रूप में लंबा करियर रहा है। जे ने 16 साल की उम्र में फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा था लेकिन वह अपने स्कूल के दिनों से ही एक मंच कलाकार थी। सिनेमा में एक लंबा सफर करने के बाद उन्होंने राजनीति में शामिल होने का निर्णय किया। 1980 के दशक में, वह कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गईं और आंध्र प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष बनीं।

Who Was J Jamuna

जमुना का जन्म 30 अगस्त, 1936 को हम्पी में निप्पनी श्रीनिवास राव और कौशल्या देवी के घर जनाबाई के रूप में हुआ था। जे ने उस्मानिया विश्वविद्यालय में जूलॉजी के प्रोफेसर जुलुरी रमना राव से शादी की, जिनकी 2014 में मृत्यु हो गई। जमुना अपने पीछे अपने बेटे और बेटी को छोड़ गई हैं। उनके पति जुलुरी रमना राव, जो उस्मानिया विश्वविद्यालय में जूलॉजी के प्रोफेसर थे का नवंबर 2014 में निधन हो गया।

जमुना ने पुत्तिलु (1952) के साथ सिनेमा में अपनी शुरुआत की। उन्होंने राजा राव द्वारा बनाए गए इंडियन पीपल्स थिएटर एसोसिएशन की ओर से थिएटर भी किया। जे ने तेलुगु भाषा में 198 से अधिक फिल्मों में एक्ट किया, जिनमें से कुछ नाम हैं- भुकैलास, गुंडम्मा कथा, चिरंजीवुलु, मोगा मनसुलु और रामुडु भीमुडु। जमुना ने रामायण और महाभारत के भारतीय महाकाव्यों के किरदार निभाए। इसके अलावा, हिंदी में कुछ फिल्में कीं, उनमें से एक सर्वश्रेष्ठ फिल्म जिसने उन्हें फिल्मफेयर पुरस्कार भी जीता, वह थी सुनील दत्त के साथ मिलन। जे जमुना आखिरी बार 2021 में अम्म्ममगरी मनावडु में दिखाई दी थीं।

जे जमुना का राजनीतिक मोर्चे पर उनका करियर छोटा रहा। उन्होंने 1989 में लोकसभा चुनाव लड़ा और राजमुंदरी संसदीय क्षेत्र से जीत हासिल की। 1991 में दूसरा चुनाव जीता नहीं था, तब से उन्होंने राजनीति छोड़ दी लेकिन 1990 के दशक के अंत में भारतीय जनता पार्टी (BJP) के लिए प्रचार किया। उनकी अगली भूमिका एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में थी, जे जमुना ने पिछले 25 वर्षों से समाज सेवा की।

अगला आर्टिकल