ट्विटर इंडिया की पब्लिक पालिसी हेड महिमा कौल ने इस्तीफा दे दिया है। हाल ही के दिनों में सोशल मीडिया कंपनी के पॉलिसी हेड का यह दूसरा हाई प्रोफाइल एग्जिट है। सबसे हाल ही में फेसबुक से अंकिता दास का इस्तीफा साउथ एशिया की पालिसी हेड के रूप में लिया गया था जब उन्होंने पिछले साल अक्टूबर 2020 में क्विट किया था।

image

कौल का इस्तीफा उस समय आया है जब सोशल मीडिया जाइंट्स गंभीर दबाव में हैं। हाल ही में कंपनी को सरकार द्वारा किसान विरोध प्रदर्शनों के समर्थन में ट्वीट करने वाले पॉप्युलर मीडिया हेड्स और व्यक्तियों के ट्विटर एकाउंट्स को बैन करने का निर्देश दिया गया था।

रिपोर्ट में कहा गया है कि कौल के इस्तीफे का कंपनी के प्रति सरकार की कार्रवाई से कोई संबंध नहीं है। महिमा कौल 5 साल से अधिक समय से ट्विटर पर हैं।

ट्विटर की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, ” इस साल की शुरुआत में, महिमा कौल ने भारत और साउथ एशिया के लिए ट्विटर पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर के रूप में अपनी देसिग्नेशन से हटने का फैसला किया, ताकि वह एक अच्छा ब्रेक ले सकें। यह ट्विटर पर हम सभी के लिए एक नुकसान है, लेकिन भूमिका में पांच साल से अधिक समय के बाद हम उनके पर्सनल लाइफ में सबसे महत्वपूर्ण लोगों और रिश्तों पर ध्यान केंद्रित करने की उसकी इच्छा का सम्मान करते हैं। महिमा मार्च के अंत तक अपनी डेसिग्नेशन में बनी रहेंगी और प्रोसेस को सपोर्ट करेंगी। ” इस बयान का श्रेय मोनिक मेहे, वीपी, पब्लिक पॉलिसी, ट्विटर को दिया गया।

महिमा कौल के उत्तराधिकारी की घोषणा अभी तक नहीं की गई है। महिमा कौल ट्विटर इंडिया की शुरुआती हायरर्स में से एक थीं और अन्य भूमिकाओं में उनके नीति प्रमुख के रूप में काम किया। वह वेलहम के हाई स्कूल, देहरादून के पूर्व छात्र हैं और पहले ओआरएफ फाउंडेशन, जो की दिल्ली से बाहर के एक थिंकटैंक के साथ जुड़े हुए थे।

Email us at connect@shethepeople.tv