UP Lalitpur Girl Invention: ललितपुर की लड़की ने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर किया देश भर में नाम रोशन

UP Lalitpur Girl Invention: ललितपुर की लड़की ने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर किया देश भर में नाम रोशन UP Lalitpur Girl Invention: ललितपुर की लड़की ने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर किया देश भर में नाम रोशन

SheThePeople Team

01 Dec 2021

UP Lalitpur Girl Invention: इस लड़की की उम्र सिर्फ 14 साल है और यह उत्तरा प्रदेश के झाँसी के पास के ललितपुर से है। इसने आत्मनिर्भर के अंतर्गत ऐसी टेक्नोलॉजी बनाई है जिससे कि खेती किसानी आसान हुई है।

इस लड़की को दिल्ली के इंडिया हैबिटैट सेंटर में अवार्ड मिलने वाला है और इसने इसके इस प्रोजेक्ट को बनाने के लिए आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का सहारा लिया है। इसब होनहार लड़की का नाम है नंदनी कुशवाहा और इन्होंने अपने छोटे से गाँव का नाम रोशन कर दिया है। कौन कहता है कि हुनर बड़ी जगह से आता है लग्न हो तो कहीं से भी आ सकता है।

ललितपुर की लड़की ने आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस का इस्तेमाल कर किया देश भर में नाम रोशन


नंदनी ने एक ऐसा डिवाइस बनाया है जिससे पता लग सकता है कि आपके खेत की मिट्टी के लिए सबसे सही फसल कौन सी होगी। यह आपकी मिट्टी में मौजूद सभी कंपोनेंट्स के आधार पर आपको बेस्ट फसल चुनकर देती है। यह डिवाइस आपकी मिट्टी में किस मात्रा में क्या है इस बात का पता करता है जैसे कि नाइट्रोजन, पोटासियम, उमस, तापमान और बारिश। इसके बाद आप यह आसानी से समझ सकते हैं कि आपको कौन सी फसल लगानी है।

नंदनी के पास यह डिवाइस बनाने का आईडिया कहाँ से आया? UP Lalitpur Girl Invention


इनका कहना है कि इनके पिता खुद एक किसान हैं और लम्बे समय से इनको किसानी में सिर्फ नुकसान ही हो रहा है। इसके बाद इन्होंने दिमाग लगाया और यह इस तकनीक को लेकर आयीं। इनके पिता का नाम है जमुनाप्रसाद कुशवाहा और इनको अभी तक कोई आईडिया ही नहीं है कि इनकी बेटी ने कितना बड़ा नाम कर दिखया है। इनको लग रहा है कि कोई बड़े अविष्कार के लिए यूनियन गवर्नमेंट ने बुलाया है।

यह लड़की ललितपुर डिस्ट्रिक्ट के महरौनी तहसील के गांव पठा से हैं। नंदनी का कहना है कि यह इनके मैथ्स के सर से मोटीवेट हुई जिनका नाम है प्रकाश भूषण मिश्रा । इन्होंने इनके इस प्रोजेक्ट का नाम रखा है " मिट्टी को जानो, फसल पहचानो।

इनको और इनके अन्य साथियों को प्राइज लेने के लिए इस प्रोग्राम में बुलाया गया है जिसका नाम है आज़ादी एक डिजिटल महोत्सव। यहाँ पर इंक इस प्रोजेक्ट को बड़े बड़े साइंटिस्ट और एक्सपर्ट्स देखेंगे जो कि देश भर से आये हैं।

अनुशंसित लेख