What Is Agnipath Scheme? क्यों हो रहा देश में इसका विरोध

What Is Agnipath Scheme? क्यों हो रहा देश में इसका विरोध What Is Agnipath Scheme? क्यों हो रहा देश में इसका विरोध

Swati Bundela

17 Jun 2022

What Is Agnipath Scheme?

अग्निपथ स्कीम के अंतर्गत साढ़े 17 से 21 साल की उम्र के लोग 4 साल के लिए आर्म्ड फोर्सेज में भर्ती हो सकते हैं। सरकार ने एकमुश्त छूट में अग्निपथ योजना की ऊपरी सीमा को बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया

इस भर्ती में 4 साल सर्विस देने के बाद कुल में से केवल 25 प्रतिशत को रखा जाएगा और बाकि 75 को हटा दिया जाएगा।  इस 75 प्रतिशत को न ही कोई पेंशन मिलेगी न ही कोई सरकारी नौकरी के लाभ। इनको केवल 11.71 लाख का पैकेज दिया जाएगा।

अग्निपथ स्कीम के अंडर में तन्खा कितनी दी जाएगी

अग्निपथ स्कीम के अंतर्गत जो भी नौकरी करता है उसको पहले साल में 30,000 रूपए महीने मिलेंगे और इस में से 9,000 काटकर सीधे अग्निवीर कार्पस फण्ड को दे दिए जाएंगे।  इसके बाद सिर्फ बकाया की 21,000 ही सैनिक को दी जाएगी।  

नौकरी के दूसरे साल में 33,000 तन्खा मिलेगी और 23,100 हाँथ में आ पाएगी।  तीसरी साल में 36,500 मिलेगी और 25,580 हाँथ में आ पाएगी।  इसके बाद चौथी और आखिरी साल में 40,000 तन्खा होगी और सिर्फ 28,000 हाँथ में आएगी।

इन सब को मिलाने के बाद 4 साल में एक सैनिक के पास कुल 11.71 लाख रूपए हो जाएंगे।  

क्यों हो रहा है अग्निपथ स्कीम को लेकर विरोध ?

जब से अग्निपथ स्कीम की घोषणा की गयी है तब से ही आर्म्ड फोर्सेज की तैयारी करने वाले बच्चे विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।  इन्होने रोड और रेल पर हमला भी किया है।  अभीतक कई ट्रैन जला दी गयी हैं और कई तोड़ फोड़ दी गयी हैं।  कुल 38 ट्रैन इसके कारण कैंसिल कर दी गयी हैं, 11 आधी कैंसिल हुई हैं और 72 तरीन लेट चल रही हैं।

इसके अलावा बिहार के डिप्टी चीफ मिनिस्टर रेनू देवी के घर पर भी हमला किया गया है।  पलवल और हरयाणा में धारा 144 लगा दी गयी है और इंटरनेट और मैसेज की सुविधा 24 घंटे के लिए बंद कर दी गयी है।  

इस प्रोटेस्ट के  बाद ही अग्निपथ स्कीम की अपर लिमिटे बढ़ा कर 23 साल क्र दी गयी है।  कांग्रेस सेक्रेटरी प्रियंका गाँधी ने कहा कि अग्निपथ स्कीम तुर्रंत ही वापस ले लेनी चाहिए।  

सरकारी नौकरी के उम्मीदवारों को चिंता है कि इस स्कीम के 4 साल पुरे होने के बाद क्या होगा ।  किसी का कहना है कि चार साल के बाद क्या होगा तो किसी का कहना है कि चार साल कि नौकरी के बाद हमें कोई इस्थायी रिजर्वेशन की नौकरी दें।  

अनुशंसित लेख