दीक्षा सिंह, 2015 की मिस इंडिया कंटेस्टेंट और मॉडल हैं। वह उत्तर प्रदेश जिला पंचायत चुनावों में चुनाव लड़ेंगी। वह जौनपुर जिले के बक्शा विकास खंड के वार्ड नंबर 26 से जिला पंचायत सदस्य के लिए चुनाव लड़ेंगी।

सिंह जौनपुर जिले के बक्शा क्षेत्र में स्थित चित्तोरी गाँव के मूल निवासी हैं और उन्होंने तीसरी कक्षा तक पढ़ाई की है। वह बाद में मुंबई और फिर गोवा चली गईं और एमईएस कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड कॉमर्स, ज़ुरीनगर, गोवा से अपनी हायर एजुकेशन प्राप्त की।

रिपोर्ट्स के अनुसार दीक्षा सिंह ने कहा कि वह कॉलेज में पोलिटिकल डिबेट्स में भाग लेती थीं और समय-समय पर अपने गांव भी जाती थीं। उन्होंने आगे कहा कि जौनपुर एक डेवलप्ड जिले से बहुत दूर है और चुनाव लड़ने का उनका इरादा अपने गांव में एक बदलाव की ओर बढ़ना है।

पहले सिंह के पिता जितेंद्र सिंह उसी सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे, लेकिन तब वह महिलाओं के लिए आरक्षित थी। इसलिए, सिंह ने इस साल चुनाव में लड़ने का फैसला किया। उनके पिता जितेंद्र सिंह गोवा में ट्रांसपोर्ट का कारोबार करते हैं।

सिंह का मुकाबला दिवंगत भाजपा नेता राम चंद्र सिंह की बहू शालिनी सिंह से होगा। जौनपुर पंचायत चुनाव के नॉमिनेशन पेपर्स 3 और 4 अप्रैल को दाखिल किए जाएंगे और इसके पहले फेज की शुरुआत 15 अप्रैल से होगी।

कौन है दीक्षा सिंह ?

दीक्षा सिंह ने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद अपने मॉडलिंग करियर की शुरुआत की। इस साल फरवरी में, वह दर्शन रावल द्वारा रब्बा मेहर करी के म्यूसिक वीडियो में देखी गई थीं। वह रावल और नेहा कक्कड़ के गीत तेरी आंखें में म्यूसिक वीडियो में भी दिखाई दीं। वह एक अपकिंग वेब सीरीज में भी दिखाई देने वाली हैं।

सिंह ने 2015 में मिस इंडिया ब्यूटी पैजेंट में भाग लिया और प्रतियोगिता के फाइनलिस्ट में से एक थीं। उन्होंने कहा कि वह अपने कॉलेज के दिनों से ही पोलिटिकल डिबेट्स में हिस्सा ले रही थीं।

24 वर्षीय मॉडल ने दावा किया कि पढ़ाई और करियर के लिए दूर जाने के बाद उन्होंने समय-समय पर अपने गांव का दौरा किया। शुक्रवार को, वह अपने गाँव आई और कहा, “यहाँ आने पर, मैंने देखा कि आज भी जौनपुर जिला विकास से बहुत दूर है। इसलिए, मैं पंचायत चुनावों के लिए आयी हूं, कुछ बदलाव के बारे में सोच रही हूं। ”

Email us at connect@shethepeople.tv