कौन हैं संध्या यादव: समाजवादी पार्टी (सपा) की संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव की भतीजी संध्या यादव हाल ही में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हुई हैं और उन्होंने आनेवाले जिला पंचायत के लिए बुधवार (7 अप्रैल) को अपना नॉमिनेशन फाइल किया। 15 अप्रैल से 29 अप्रैल तक चार फेज में चुनाव कराए जाएंगे।

रिपोर्ट्स के न्यूज़ समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव की भतीजी संध्या यादव ने कल भाजपा के टिकट पर आनेवाले पंचायत चुनावों के लिए अपना नॉमिनेशन फाइल किया।

वह मैनपुरी जिला पंचायत की प्रमुख चेयरपर्सन हैं।

लेकिन, संध्या यादव कौन है?

  1. संध्या एएनआई के अनुसार, एसपी का प्रतिनिधित्व करने वाली मैनपुरी जिला पंचायत की लगातार अध्यक्ष हैं।
  2. वह द प्रिंट के अनुसार, समाजवादी पार्टी के गढ़, मैनपुरी के परिवार के गृह जिले से जिला पंचायत चुनाव लड़ेंगी।
  3. वह पूर्व बदायूं सांसद धर्मेंद्र यादव की बड़ी बहन और मुलायम के बड़े भाई अभय यादव की बेटी हैं।
  4. वह 2016 में सिटिंग डिस्ट्रिक्ट पंचायत प्रेसिडेंट बनीं और समाजवादी टिकट पर पिछला चुनाव जीतीं।
  5. हाल ही में, बुधवार को घोषित लिस्ट में घिरोर के वार्ड 18 से उनका नाम भाजपा के उम्मीदवार के रूप में चित्रित किया गया था। उनके पति अनुजेश प्रताप सिंह दो साल पहले भाजपा में शामिल हुए थे।
  6. अनुज को भरोसा है कि उनकी पत्नी, आराम से यह चुनाव जीतेंगी, यह कहते हुए कि उनका परिवार मैनपुरी में एक मजबूत गढ़ है। अनुजेश ने कहा, “मेरी मां, उर्मिला यादव, घिरोर से दो बार – 1993 और 1996 में विधायक रहीं।”
  7. संध्या का मुकाबला उनके भतीजे और मैनपुरी के पूर्व समाजवादी सांसद तेजप्रताप यादव से होगा। उन्होंने दावा किया कि पार्टी उन्हें एक प्रतिद्वंद्वी के रूप में मानेगी।
  8. 2017 में, संध्या के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पास किया गया था जब उसके पति, अनुजेश यादव, जो फिरोजाबाद जिला पंचायत के सदस्य थे और शिवपाल यादव के करीबी थे, उनको पार्टी से निकाल दिया गया था। अनुजेश ने स्थानीय जिला पंचायत अध्यक्ष, विजय प्रताप के खिलाफ एक प्रस्ताव पर साइन किए थे, जो बदले में राम गोपाल यादव के करीबी सहयोगी थे। बाद में, प्रस्ताव वापस ले लिया गया।

चुनाव के नतीजे 2 मई को घोषित किए जाएंगे।

Email us at connect@shethepeople.tv