Dear Men Take Care of Yourself: पार्टनर को मदर-ज़ोन करना बन्द करो

Dear Men Take Care of Yourself: पार्टनर को मदर-ज़ोन करना बन्द करो Dear Men Take Care of Yourself: पार्टनर को मदर-ज़ोन करना बन्द करो

Vaishali Garg

13 Jun 2022

 फ्रेंड-ज़ोनिंग पुरुषों के लिए, महिलाओं की बहुत आलोचना की जाती है, लेकिन कोई भी पुरुषों से सवाल नहीं करता कि वे मदर-ज़ोन्ड क्यों कर रहें हैं एक महिला को। वास्तव में, patriarchal समाज में रिलेशनशिप में महिलाओं की भूमिका को परिभाषित करना एक बहुत ही आम बात है।

मदर-ज़ोन क्या है?

महिलाओं से हमेशा किसी भी रिलेशनशीप में देखभाल करने की अपेक्षा की जाती है और इस अपेक्षा को मदर-ज़ोनिंग कहा जाता है। क्या यह आम बात नहीं है कि कई पुरुष अपनी महिला साथी में अपनी मां की तलाश करते हैं? क्या यह सही नहीं है कि कई सास अपनी बहू को अपने बेटे की देखभाल करने के लिए कहती हैं और अपने बेटे के जीवन में छोटी-छोटी असुविधाओं के लिए उन्हें दोषी ठहराती हैं?

इसके पीछे एक कारण यह विचारधारा है कि महिलाएं प्राकृतिक पोषणकर्ता हैं। एक रिलेशन तभी योग्य है जब वे अपने बच्चों की तरह पुरुषों की देखभाल करें और उनकी सेवा करें।

इसके अलावा, राजा बेटा के रूप में बड़े होने वाले पुरुषों को कभी भी अपने निजी जीवन में स्वतंत्र होना नहीं सिखाया जाता है। बचपन से ही उनकी मां ने उनकी देखभाल की है उन्हें कभी कुछ करने ही नहीं दिया। 
यही कारण है कि जब वह रिलेशन में आते हैं तो वह अपने पार्टनर से भी यही उम्मीद करते हैं। जब उनके जीवन में एक महिला मौजूद रहती है तो वे अपने आप काम करने की कल्पना भी नहीं करते।

अपने सॉक्स से लेकर मां जैसा खाना बनाओ तक एक आदमी हर वो उम्मीद करता है अपने पार्टनर से की जैसे उसकी मां उसके लिए करती हैं वह भी करे। अगर कोई महिला ऐसा करती भी है, तब भी कोई पुरुष उसको इतना सम्मान नहीं देता जैसे वह अपनी मां को देता है। "मेरी माँ मत बनो," कई पुरुष अपने पार्टनर से कहते हैं जब वो आपकी आदतें या जीवन को बदलने की कोशिश करती है।  क्योंकि जब महिलाओं को उनकी मेहनत के लिए सम्मान देने की बात आती है, तो समाज हमेशा इसे टालने का तरीका ढूंढता है।

बट डियर सोसायटी,  किसने कहा कि महिलाएं केवल पुरुषों की देखभाल करने के लिए होती हैं? क्या उनके जीवन में पुरुषों से परे कोई व्यक्तित्व नहीं है? क्या अपने जीवन और करियर की जिम्मेदारियों के अलावा महिलाओं पर पुरुषों का बोझ डालना उचित है? क्या पुरुषों को यह नहीं पता है? उनके लिए क्या अच्छा और क्या बुरा है?

हमको यह समझने की आवश्यकता है कि रिलेशनशिप समानता के बारे में होता है। अगर आप अपनी महिला पार्टनर से यह उम्मीद करते हैं कि वह आपकी मां जैसे रहे तो यह गलत है क्योंकि यह समानता का उल्लंघन है। अब सही समय आ गाया है कि हम महिलाओं को रिश्तों में देखभाल करने वाली न समझें और पुरुषों को उनकी व्यक्तिगत देखभाल के लिए जिम्मेदार ठहराना शुरू करें।  यदि महिलाएं देखभाल करती हैं, तो उन्हें भी समान रूप से उतनी देखभाल मिलनी चहिए।

एक रिश्ते में देखभाल करना, समस्याओं को समझना और समर्थन करना दोनों भागीदारों की जिम्मेदारियां होती हैं। अकेले महिलाओं पर बोझ डालना बंद करो।  पुरुषों को अपने पार्टनर की मां से तुलना करना बंद कर देना चाहिए।

अनुशंसित लेख