Society Against Women: खूबसूरत लड़की, मतलब शादी करो जल्दी आखिर क्यों?

Apurva Dubey
10 Sep 2022
Society Against Women: खूबसूरत लड़की, मतलब शादी करो जल्दी आखिर क्यों?

अक्सर आपको कही न कही कोई ऐसी चाची या आंटी मिली ही होंगी जिन्होंने आपसे कहा ही, "कितनी खूबसूरत लग रही हो, अब तम्हारी शादी कर ही देनी चाहिए। "शादी केवल इस बारे में है कि आप कैसे दिखते हैं। "एक महिला को अब शादी कर लेनी चाहिए, वह अच्छी दिख रही है और उसके पास एक अच्छा दूल्हा खोजने का बेहतर मौका है", आखिर क्यों एक लड़की के लिए खूबसूरत होने से उसका ताल्लुक शादी करने से हो जाता है। 

Society Against Women: खूबसूरत लड़की, मतलब शादी करो जल्दी आखिर क्यों?  

  • इसी तरह का विचार अविवाहित महिलाओं को दिया जाता है जो शादी नहीं करना चुनती हैं। कई एकल महिलाओं को सुनने को मिलता है कि उनके जैसी महिला अविवाहित कैसे हो सकती है। 
  • कुछ महिलाएं इसे तारीफ के तौर पर लेती हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। समाज में शादी है ओबसेशन, इस सोच को बदलना ही होगा। यह सिर्फ समाज की गलत धारणा को दर्शाता है कि सिर्फ इसलिए कि एक महिला अच्छी दिखती है, उसे शादी करनी चाहिए क्योंकि उसे एक अच्छा दूल्हा मिल सकता है। 
  • यह माना जाता है कि एक महिला की सुंदरता की सराहना करने और खुद महिला को गले लगाने के लिए कुछ नहीं है। इसका वास्तविक मूल्य सुरक्षित भविष्य सुनिश्चित करने के लिए इसे एक हथियार के रूप में उपयोग करना है। 

क्या लड़कियों के लिए लाइफ का एकमात्र गोल शादी है? 

  • खासकर जब सुंदरता की बात आती है, तो समाज हमेशा महिलाओं की उपस्थिति को महत्व देता है और उन्हें इसे एक वस्तु के रूप में देखने के लिए प्रोत्साहित करता है। हमें यह समझना होगा कि शादी हर लड़की का सपना नहीं होता है। 
  • हमारे समाज में, एक खूबसूरत महिला को उस महिला से ज्यादा मनाया जाता है जिसने अपने करियर में बहुत कुछ हासिल किया है। वास्तव में, जो खूबसूरत महिलाएं समाज की आंखों का तारा होती हैं, उनके करियर की बात आती है तो उन्हें भी कम आंका जाता है। 
  • महिलाओं की अहमियत उनके लुक्स में क्यों होनी चाहिए? एक महिला को सिर्फ उसकी सुंदरता के लिए क्यों महत्व दिया जाना चाहिए? एक महिला की सफलता को समाज गंभीरता से क्यों नहीं ले सकता?

शादी है कपल के अंडरस्टैंडिंग और उनकी पसंद-नापसंद 

  • जिस तरह किसी आदमी की सैलरी को देख कर उसे जज करना गलत है, क्या महिलाओं को उनकी खूबसूरती से तराजू में तौलना सही होगा? क्या शादी केवल इस लिए होती है कि एक लड़की बेहद खूबसूरत है और उसे उसके टक्कर का खूबसूरत दूल्हा मिले? 
  • इन सभी सवालों से एक बात तो जाहिर है कि, इस तरह की सोच हमें दो इंसान के बीच फीलिंग्स को पैदा नहीं होने देती। केवल फिजिकल अपीयरेंस; आप कैसे दिखते हो? रंग कैसा है? कद कितना है? क्या यह सवाल वाकई मायने रखते हैं?
  •  महिलाओं के लिए शादी करने के लिए हज़ारों वजह है, लेकिन महज़ उसका खूबसूरत होना इस बात की हद नहीं।   


अनुशंसित लेख