Men Behaviour Post Breakup: ब्रेकअप में लड़कों का अग्रेशन है जस्टीफ़ाइड?

Men Behaviour Post Breakup: ब्रेकअप में लड़कों का अग्रेशन है जस्टीफ़ाइड? Men Behaviour Post Breakup: ब्रेकअप में लड़कों का अग्रेशन है जस्टीफ़ाइड?

Swati Bundela

28 Jun 2022

ब्रेकअप के बाद खुद को संभालना मुश्किल होता है और हर किसी के पास दर्द और चोट से निपटने के लिए अलग-अलग तरीके होते हैं। हर व्यक्ति के पास इस चोट से निपटने का एक अलग तरीका होता है जिससे वह अपने वो अपने टूटे दिल को संभाल सकते हैं। लेकिन क्या इसका मतलब यह है कि ब्रेकअप के बाद आपको अग्रेशन दिखाना चाहिए या टॉक्सिक बेहेवियर अपनाना चाहिए? 

अक्सर देखा गया है कि ब्रेकअप के बाद लड़के ज्यादा वॉयलेंट या हिंसक हो जाते हैं। ये जरुरी नहीं कि आपका दिल टुटा हो तो आपको अपना दुःख जाहिर करने के लिए गुस्सा दिखाना है। अपने दुःख को पाटने के और भी कई तरीके होते हैं।   

Men Behaviour Post Breakup: क्या ब्रेकअप के बाद लड़कों का अग्रेशन है जस्टीफ़ाइड?

कई पुरुष ब्रेकअप के बाद खुद को हिंसक महसूस करते हैं और अपने गुस्से को शांत करने के लिए शारीरिक और मानसिक हिंसा का सहारा लेते हैं। उन्हें लगता है कि महिला उनकी जरूरतों और भावनाओं के लिए जिम्मेदार है, भले ही वह यह घोषणा कर दे कि वह अब वह दोनों साथ नहीं हैं। 

कई पुरुषों को लगता है कि किसी महिला को मारना या हिंसक तरीके से गुस्सा करना ठीक है, खासकर अगर उसने उन्हें "गलत" किया है। "थप्पड़" फिल्म याद है? अमू का पति, जब वह अपने मालिक से निराश था, तो उसने उसे नहीं मारा, बल्कि अपनी पत्नी पर अपना गुस्सा निकालने का फैसला किया। 

यह स्पष्ट रूप से दिखाता है कि उसने अमू के ऊपर कितनी शक्ति महसूस की और अपने बॉस के सामने उसने कितना शक्तिहीन महसूस किया। जी हां, महिलाओं को भी अक्सर लगता है कि अगर उनका पार्टनर उनके गुस्से में आकर उन्हें शारीरिक रूप से प्रताड़ित करता है तो इसमें कोई बुराई नहीं है। जबकि ये भावना गलत है। 

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण में पाया गया कि लगभग 45 प्रतिशत महिलाओं और 44 प्रतिशत पुरुषों ने महसूस किया कि यदि एक पुरुष अपनी पत्नी को सौंपे गए कर्तव्यों का पालन नहीं करता है तो उसके साथ मारपीट करना ठीक है। ऐसी मानसिकता के साथ समस्या यह है कि यह अक्सर एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को ये गलत सोच ट्रांसफर हो जाती है।

ब्रेकअप के बाद, कुछ पुरुष अपने एक्स गर्ल फ्रेंड से बदला लेने के लिए हिंसा का इस्तेमाल एक साधन के रूप में करते हैं। कुछ लोग अपनी गलत मानसिकता के कारण यह भी महसूस कर सकते हैं कि हिंसा या इसके डर से उन्हें अपना रिलेशनशिप वापस मिल जायेगा।इतना जान लें कि यह किसी भी तरह से प्यार नहीं है। 

प्यार में गाली के लिए कोई जगह नहीं होती। यह दुर्व्यवहार हमेशा शारीरिक नहीं होता है। यह मानसिक प्रताड़ना, गैसलाइटिंग, मौत की धमकी, या आत्म-नुकसान की धमकी या किसी महिला के प्रियजनों को नुकसान पहुंचाने सहित मानसिक भी हो सकता है।

अनुशंसित लेख