Wife Material: यह क्या है और आप अच्छी पत्नी कैसे बन सकती हैं?

Wife Material: यह क्या है और आप अच्छी पत्नी कैसे बन सकती हैं? Wife Material: यह क्या है और आप अच्छी पत्नी कैसे बन सकती हैं?

Monika Pundir

24 Jun 2022

क्या आपको भी लगता है आप अच्छी वाइफ मटेरियल नहीं हो? क्या आप सोच रहे हैं कि आपको शादी करने के लिए कभी कोई नहीं मिलेगा? क्योंकि आप कभी भी पिछली पीढ़ी की महिलाओं की तरह एडजस्ट नहीं कर पाएंगे?

पैट्रिआर्केल वाइफ मटेरियल क्या है?

कोई जो स्मार्ट है लेकिन महत्वाकांक्षी नहीं, गोरा, सुंदर लेकिन अपनी त्वचा को नहीं दिखाता है, कोई है जो निर्णय ले सकता है लेकिन आदमी से इजाज़त की आवश्यकता हो (क्योंकि पति परमेश्वर)। कोई जो शरीफ दिखते हैं, प्रेफ़ेरबली कुंवारी, विर्जिन, खाना बना सकती है, सफाई करती है, घर के अन्य काम करती है और दूसरों को अपने पहले रखना जानती हैं।

समाज हमेशा एक ऐसी महिला के साथ असहज रहा है जो किसी स्टीरियोटाइप को नहीं मानती है। इसलिए एक महिला पर अपना नियंत्रण जारी रखने के लिए, हमारे समाज ने एक पत्नी को परिभाषित करने के लिए कई नियम स्थापित किए हैं।

एक अच्छी पत्नी कौन नहीं बनना चाहता? हम सभी अपने साथी को खुश करना चाहते हैं (ठीक वैसे ही जैसे उन्हें भी करना चाहिए)। लेकिन अपने पार्टनर को खुश करने और इस भूमिका में जाने के चक्कर में हमें अपने लिए सम्मान नहीं खोना चाहिए।

एक अच्छी पत्नी के आदर्श लक्षण (रिडिफाइंड):

1. एडजस्ट करें, पर इतना ही जितना आपके लिए भी सही हो

एक "अच्छी पत्नी" से क्या अपेक्षाएं हैं? पहला यह है कि उसे एडजस्ट करना चाहिए। अभ एडजस्ट तो थोड़ा बहुत सबको करना ही होता है। ठीक वैसे ही जैसे हम दूसरों से भी उम्मीद करते हैं। लेकिन केवल उतना ही एडजस्ट करें जितना आप करने में सहज हों। एडजस्टमेंट की प्रक्रिया में, आपको अपनी पहचान या पसंद/नापसंद या विचारधारा से समझौता करने की आवश्यकता नहीं है। यदि आप नौकरी करना चाहते हैं, तो करें। आपको उन मुद्दों पर "समायोजन" करने की ज़रूरत नहीं है जो आपके लिए महत्वपूर्ण हैं।   

2. अपने ससुराल/पति का सम्मान करें लेकिन सम्मान की भी मांग करें 

अपनी पहचान बनाए रखने का अर्थ हमेशा दूसरे को नीचा दिखाना या अनादर करना नहीं होता है। आप अपने ससुराल या पति के साथ संबंधों को तनावपूर्ण किए बिना अपनी बातों को आगे रख सकते हैं। लेकिन साथ ही आपको उनसे समान सम्मान की मांग करनी चाहिए। समझ एकतरफा रास्ता नहीं है। रिश्ते को आगे बढ़ाने और समान बनाए रखने के लिए दोनों पक्षों को सम्मान पूर्वक योगदान देना चाहिए। 

3. एक अच्छी पत्नी वह होती है जो अपने नए परिवार और संबंधों पर ध्यान केंद्रित करती है लेकिन पुराने को नहीं भूलती है

अक्सर, शादी के बाद, एक महिला से अपेक्षा की जाती है कि वह अपने माता-पिता के घर और परिवार से खुद को उखाड़ फेंके और अपना सारा समय अपने वैवाहिक घर को दे। अगर महिला कमा रही है तो उससे यह अपेक्षा की जाती है कि वह अपनी सारी कमाई अपने वैवाहिक पारिवारिक खर्चों में दे देगी न कि अपने माता-पिता को। 

पत्नी बनने से बहुत पहले आप एक बेटी थी। अगर शादी के बाद भी पुरुष अपनी पारिवारिक से जुड़ा रहता है तो महिलाएं क्यों नहीं? क्या माता-पिता की देखभाल करना केवल बेटे की जिम्मेदारी है? 

4. एक अच्छी पत्नी वो होती है जो जागरूक होती है लेकिन खुद के लिए खड़े होने से नहीं डरती है

अक्सर परिवार अपनी बहू को विनम्र होने की उम्मीद करते हैं, कुछ रीति-रिवाजों और नियमों का पालन करते हैं। उनसे अपेक्षा की जाती है कि वे एक निश्चित पोशाक और व्यवहार का पालन करें, और अपनी राय व्यक्त न करें। लेकिन नए लोगों और रिश्तों के लिए जगह बनाने के लिए अपनी जीवनशैली में थोड़ा बदलाव करना ठीक है लेकिन वे बदलाव इतने बड़े नहीं होने चाहिए कि यह आपके आत्म-सम्मान या स्वयं की भावना को प्रभावित करे।

5. जो अपने पार्टनर की ज़रूरतों को पूरा करती है लेकिन यह भी उम्मीद करती है कि उसकी खुद की जरूरतें पूरी होंगी

एक बार जब आप किसी रिश्ते के लिए साइन इन करते हैं, तो आमतौर पर यह अपेक्षा की जाती है कि आप अपने पार्टनर की खुशी सुनिश्चित करते हैं। लेकिन ध्यान रहे, कि आपको अपने पार्टनर से भी यही उम्मीद करनी चाहिए और आपके साथी को भी आपकी खुशी को उतना ही पूरा करना चाहिए जितना आप करते हैं। पारंपरिक विवाहों में, केवल एक पत्नी से अपेक्षा की जाती है कि वह अपने पति के यौन सुख की चिंता करे।

अनुशंसित लेख