Why To Judge Women Doing Item songs? इनके होने का कारण पूछो न

Why To Judge Women Doing Item songs? इनके होने का कारण पूछो न Why To Judge Women Doing Item songs? इनके होने का कारण पूछो न

Sanjana

29 Jun 2022

हाल ही में पुष्पा फिल्म का एक आइटम नंबर ओ ओंटवा रिलीज हुआ है। इसकी रिलीज होने पर आइटम सोंग्स के ऊपर कई तरह की बातें की जा रही है। यह भी कहा जा रहा है कि इसका लैंगिक समानता पर भी दुष्प्रभाव पड़ता है। यह बात तो साफ है की आइटम सॉन्ग पुरुषों की हवस की लालसा को पूरा करते हैं। लेकिन यह महिलाओं को उनकी गंदी नजरों और निर्दयता का विक्टिम भी बनाते हैं।

लेकिन पहले ऐसा नहीं था। पहले आइटम नंबर महिलाओं की सेक्सुअलिटी को दिखाने के लिए नहीं बल्कि उनकी नृत्य कला का प्रदर्शन करने के लिए बनाए जाते थे। उदाहरण के लिए हिंदी सिनेमा में नृत्य करने वाली पहली इंसान anna marrie gueizelor थी। वह बहुत ही बेहतरीन और कुशल बैलेट डांसर थी। वह पियानो भी बहुत अच्छा बजाती थी और उन्हें दूसरे भारतीय नृत्य भी आते थे। उनकी पहली फिल्म नदीरा थी।

हेलेन ऐन रिचर्डसन खान

हेलेन रिचर्ड्सन खान एक बहुत ही जानी-मानी सोलो डांसर है। उन्होंने अपने 70 साल के करियर में बॉलीवुड की 700 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया है। लेकिन वह खुद को आइटम डांसर बुलाए जाने पर खफा हो जाती थीं। यह बात थोड़ी चौका देने वाली है लेकिन सच है।

वह कहती हैं कि जमाने के साथ आगे बढ़ने पर नाइट क्लब की वजह से डांस की परिभाषा ही बदल गई। जिसे पहले एक कला समझा जाता था उसे अब एक आइटम समझा जाता है। उन्होंने कहा कि मुझे बहुत बुरा लगता है जब कोई किसी गाने को आइटम नंबर या किसी नृतिका को आइटम डांसर कह कर बुलाता है। यहां कोई भी आइटम नहीं है सब एक प्रोफेशनल है। यह बहुत ही बेकार लगता है इसलिए हमें किसी भी अभिनेत्री या गाने को आइटम नहीं बुलाना चाहिए।

विजयलक्ष्मी वदलपति

विजयलक्ष्मी वदलापति को 1980s के कुछ बॉलीवुड गानों में सिल्क स्मिता भी बुलाया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि उन्हें इंडस्ट्री से कुछ ही टाइम में इतनी सफलता मिलने के बावजूद भी बाहर निकाल दिया गया था। उन्हें यह सफलता उनके डांस नंबर में की गई उनकी सेक्स अपील के कारण मिली थी।

धीरे धीरे नृत्य की कला को और फिल्मों में नृत्य के प्रदर्शन को आइटम नंबर कहा जाने लगा। महिलाओं का ऑब्जेक्टिफिकेशन और उनका शोषण 1960 के बाद कुछ ज्यादा ही होने लगा। लेकिन इसमें महिलाओं की कहीं भी कोई गलती नहीं है। वह तो बस अपने काम को निष्ठा के साथ कर रही है। यह देखने वालों पर निर्भर करता है कि वह उसे किस नजर से देखते हैं।

कोएना मित्रा

कोएना मित्रा ने भी बॉलीवुड की बहुत से गानों में डांस किया है। उन्हें इश्क, आज की रात, आंख तेरी और चन्नू जैसे गानों में देखा जा सकता है। वह फिल्म अपना सपना मनी मनी और मुसाफिर के गाने ओ साकी साकी ने अपनी जबरदस्त परफॉर्मेंस के लिए जानी जाती हैं।

अनुशंसित लेख