Things To Avoid In Relationship: रिश्तों में झूठी उम्मीद पड़ सकती है महंगी

Things To Avoid In Relationship: रिश्तों में झूठी उम्मीद पड़ सकती है महंगी Things To Avoid In Relationship: रिश्तों में झूठी उम्मीद पड़ सकती है महंगी

Apurva Dubey

09 Aug 2022

हम हमेशा हेल्दी रिलेशनशिप की तलाश में रहते हैं। हालाँकि, बहुत सारे रिश्तों में ऐसा नहीं होता है। किसी भी रिश्ते को काम करने के लिए बहुत सारे प्रयासों की जरुरत होती है। एक दूसरे को समझने से लेकर एक-दूसरे को अपनी भावनाओं के बारे में बताने तक और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि दूसरे व्यक्ति को रिश्ते से हमारी अपेक्षाओं के बारे में बताना - यह प्रयासों और समझ की दो-तरफा यात्रा बन जाती है। थोड़े से प्रयासों और एक-दूसरे की सराहना से हम रिश्ते के कठोर अंत तक पहुंचने से बच सकते हैं। 

Things To Avoid In Relationship: रिश्तों में झूठी उम्मीद पड़ सकती है महंगी 

सेक्स हमेशा अच्छा होगा 

हर चीज़ बदलाव की मोहताज़ है। उम्र और समय के साथ आपके और आपके पार्टनर के सेक्सुअल ड्राइव भी चेंज होते रहेंगे। इसीलिए हमेशा इस बात की एक्सपेक्टेशन लगा कर रखना कि आप और आपके पार्टनर एक दूसरे को सेक्सुअली हैप्पी रखोगे, यह गलत है। असल में सेक्स तो एक रिलेशनशिप का हिस्सा है, उसके होने से या नहीं होने से हमारे रिश्तों में कोई बदलाव नहीं आता। फ़र्क़ बस इतना है कि कुछ लोग काफी उम्मीद से रहते हैं और जब उनकी यह उम्मीद टुटती है, तो रिश्तों पर भी इसका असर दिखाई देता है।    

"मेरा रिलेशनशिप हमेशा ऐसा ही रहेगा"

कई बार प्यार करने वाले कपल्स खुद ही इमेजिन करने लगते हैं कि उनके रिश्ता अब कभी नहीं बदलेगा।लेकिन जीवन की कड़वी सच्चाई यह है कि बदलाव ही सच है। हर तरीके के बदलाव होते ही रहते हैं। अगर आपका रिलेशनशिप काफी इंटिमेट है तो यह जरुरी नहीं कि ऐसी सिचुएशन हमेशा रहेगी। आने वाले समय में क्या कुछ हो सकता है इसका अंदाजा आपको खुद भी नहीं है। 

वह आपके मन की बात आसानी से समझ लेंगे 

कई बार रिलेशनशिप में महिलाएं अपने पुरुष पार्टनर से यह उम्मीद लगा बैठती हैं कि उनके पार्टनर बिना कुछ कहे ही उनके दिल की बात समझ लेंगे। हालाँकि यह सच नहीं है। इस तरह की बेबुनियाद एक्सपेक्टेशन आपो दुःख के शिव और कुछ भी नहीं देगी। अपने पार्टनर से यह उम्मीद लगाना कि वह आपके बिना बोले ही आपकी सभी इच्छाओं और जरूरतों को समझ ले यह बेकार है। इससे बहार निकलने में ही समझदारी है। 

झगड़ों का मतलब है रिलेशनशिप का ख़त्म हो जाना 

रिश्तों मे छोटी-मोटी नोकझोक होना तो आम बात है। हा, कभी कभी लड़ाईयां बढ़ भी जाती हैं लेकिन इसका यह मतलब नहीं कि अब आपका रिश्ता खत्म हो जायेगा। दरअसल आपको इस बात को काफी पॉजिटिव वे में देखना चाहिए। आप सोचे कि कैसे कसी भी रेलशनशप में झगडे आपको अपने रिलेशनशिप को ग्रो करने और अपने पार्टनर को और भी बेहतर तरीके से समझने का मौका देते हैं। 

अनुशंसित लेख