Menstrual Hygiene: पीरियड्स के दौरान न करें स्वच्छता से लापरवाही

Menstrual Hygiene: पीरियड्स के दौरान न करें स्वच्छता से लापरवाही Menstrual Hygiene: पीरियड्स के दौरान न करें स्वच्छता से लापरवाही

Vaishali Garg

20 Jun 2022

पीरियड्स एक महिला के शरीर की महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं में से एक है जिसे अत्यधिक सावधानी और आत्म-देखभाल की आवश्यकता होती है। Periods के दौरान उचित स्वच्छता सुनिश्चित करना, और सही भोजन करना आपके दर्द को कम करने में आपकी काफ़ी सहायता करता है।

आज हम आपको इस ब्लॉग में पीरियड्स के दौरान किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए और कैसे अपने आप को स्वच्छ रखना चाहिए बताएंगे।

1. हर 4-6 घंटे में अपना सैनिटरी नैपकिन बदलें

हर 4-6 घंटे में अपना सैनिटरी नैपकिन बदलना जरूरी है क्योंकि यह योनि को स्वच्छ रखने सहायक होता है। ऐसा करने से आपको जो इचिंग, इरिटेशन, रैशेज आदि के परेशानी होती है वह नहीं होगी।

2. नियमित रूप से नहाएं धोएं

पीरियड्स के दौरान नियमित रूप से स्नान करना महत्वपूर्ण है क्योंकि यह अतिरिक्त रक्त को हटा देता है जिससे संक्रमण हो सकता था। यह मूड को लाइट करने और पीरियड्स की ऐंठन को कम करने में भी मददगार है।  आप माइल्ड हीट थेरेपी के जरिए भी अपने पीरियड्स के दर्द से राहत पा सकती हैं। संक्रमण पैदा करने वाले बैक्टीरिया को खत्म करने के लिए एक सौम्य फोमिंग क्लीन्ज़र का उपयोग करें।

3. सैनिटरी पैड का सही तरीके से डिस्पोज करें

उपयोग किए गए सैनिटरी पैड का सही तरीके से निपटान करना महत्वपूर्ण है क्योंकि वे संक्रमण फैला सकते हैं।  इस्तेमाल किए गए पैड या किसी अन्य इस्तेमाल किए गए सैनिटरी उत्पाद को बेकार कागज में लपेटकर कूड़ेदान में फेंक देना चाहिए।  इसे गीले कचरे में मिलाकर अलग से नहीं रखना चाहिए। सेनेटरी पैड या टैम्पोन बदलने के बाद अपने हाथों को अच्छी तरह धोएं।

4. साबुन या vagina स्वच्छता उत्पादों का प्रयोग न करें

Vagina का अपना सफाई सिस्टम होता है जो अच्छे और बुरे बैक्टीरिया को क्लीन करता रहता है।  इसे साबुन से धोने से इसके अच्छे बैक्टीरिया मर सकते हैं, जिस कारण इन्फेक्शन होने के संभावना बड़ जाती है। इसलिए, पीरियड्स के दौरान खुद को नियमित रूप से साफ रखना महत्वपूर्ण है, आपको केवल हल्के गर्म पानी का उपयोग करने की आवश्यकता है। आप साबुन का इस्तेमाल बाहरी हिस्सों पर कर सकते हैं लेकिन vagina के लिए इसका इस्तेमाल न करें।

5. एक बार में सिर्फ एक ही पैड का यूज़ करें

कई बार हेवी फ्लो होने के कारण बहुत से लोग दो बेड का यूज करते हैं और सोचते हैं कि ऐसा करने से वह स्टेन से बच जाएंगे। जी हां! आप स्टेन से तो बच जाएंगे मगर एक टाइम पर यदि दो पैड यूज़ करेंगे तो आपको कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए भले आप हर दो-तीन घंटे में पैड चेंज कर लो मगर एक टाइम पर एक ही पैड इस्तमाल करें।

अनुशंसित लेख