Managing Depression: डिप्रेशन से निपटने के 5 तरीके

Managing Depression: डिप्रेशन से निपटने के 5 तरीके Managing Depression: डिप्रेशन से निपटने के 5 तरीके

Monika Pundir

16 Jul 2022

डिप्रेशन एक कॉमन मेन्टल हेल्थ समस्या है। अगर आपको डिप्रेशन से बचना है तो इस बारे में खुलकर बात करें। रोज़मर्रा की ज़िंदगी में छोटे-छोटे बदलाव लाते हुए ख़ुद को व्यवस्थित कर लीजिए। ख़ुद को समय दें और अपने शरीर को भी। यह होगा कैसे, आइए जानते हैं।

डिप्रेशन से निपटने के 5 तरीके:

1. पुरानी बातों के बारे में न सोचें 

अपनी पुरानी भूलों और गलतियों का शिकवा करना आपको पूरी तरह से अवसाद के चंगुल में फंसा सकता है। एक तो पुरानी बातें आपके नियंत्रण में नहीं होती। फिर उस बारे में सोच-सोचकर क्या फायदा? आप बेवजह अपने दिलो दिमाग़ पर गिल्ट का बोझ बढ़ाते है। पुरानी बातों के बारे में सोचने के बजाय आज पर फोकस करें।

2. नींदभर सोएं

एक अच्छी और पूरी रात की नींद हमें सकारात्मक ऊर्जा से भर देती है। अध्ययनों से पता चला है कि रोजाना 7 से 8 घंटे सोने वाले लोगों में अवसाद के लक्षण कम देखे जाते हैं. इसलिए व्यस्तता के बावजूद अपनी नींद से समझौता न करें।

3. अपने अंदर के लेखक को दोबारा जगाएं 

कहते हैं अगर मन के भावों को यदि आप किसी से व्यक्त नहीं कर सकते तो पेन और पेपर लेकर उन्हें लिख डाले। लिखने से अच्छा स्ट्रेस बस्टर शायद ही कुछ और हो। इसके अलावा अपनी लिखने से आत्मनिरीक्षण और विश्लेषण करने में मदद मिलती है। डायरी लिखने से लोग चमत्कारी ढंग से डिप्रेशन से बाहर आते हैं। इन दिनों ब्लॉग्स का भी ऑप्शन है। आप फेसबुक पर भी अपने विचार साझा कर सकते हैं। 

4. नियमित रूप से छुट्टियां लें 

एक ही ऑफ़िस, शहर और दिनचर्या भी कई बार बोरियत पैदा करने वाले कारक होते हैं, जो आगे नकारात्मक विचार और फिर डिप्रेशन पैदा करते हैं। माहौल बदलते रहने से नकारात्मक विचारों को दूर रखने में मदद मिलती है। यदि लंबी छुट्टी न मिल रही हो तो सप्ताहांत पर ही कहीं निकल लें। रिसर्च कहते हैं कि नियमित रूप से छुट्टी पर जाने वाले लोग, लगातार कई सप्ताह तक काम में लगे रहने लोगों की तुलना में बहुत कम अवसादग्रस्त होते हैं।

5. हल्का-फुल्का म्यूजिक सुनें  

जब लोग अवसादग्रस्त होते हैं तो अच्छा संगीत सुनकर उन्हें अच्छा लगता है। यह तथ्य कई वैज्ञानिक शोधों द्वारा प्रमाणित हो चुका है। तो जब भी मानसिक रूप से परेशान हों तो अपना पसंदीदा गाना सुनें संगीत में मूड बदलने, मन को डिप्रेशन से निकालने की अद्भुत ताकत होती है। वैसे आप एक चीज़ का ख़्याल रखें, ज़रूरत से ज़्यादा ग़म में डूबे हुए गाने न सुनें, क्योंकि ऐसा करने से आपका डिप्रेशन अगले लेवल पर पहुंच जाएगा।

अनुशंसित लेख