Eye Care Tips: मोबाइल फोन से आँखों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं

Eye Care Tips: मोबाइल फोन से आँखों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं Eye Care Tips: मोबाइल फोन से आँखों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं

Swati Bundela

01 Jul 2022

मोबाइल, कंप्यूटर / लैपटॉप, टेलीवीजन आदि सभी प्रकार की स्क्रीन से घातक नीली रोशनी निकलती है। जो हमारी आँखों को बहुत ज्यादा प्रभावित करती है। यह नीली रोशनी का जहर हमारी आँखों की रोशनी को धुँधला कर रहा है।  सामान्य रूप से प्रति मिनट 12 से 14 बार आँखे झपकती हैं, लेकिन मोबाइल स्क्रीन पर लगातार देखते रहने पर यह सिर्फ 6 से 7 बार ही झपकती है। जिसके कारण आंखों में सूखापन बढ़ता है और आँखें कमजोर होती हैं। जिससे कई प्रकार की समस्याएं होती है।

Eye Care Tips: मोबाइल फोन से आँखों को होने वाले नुकसान से कैसे बचाएं

  • मोबाइल को आँखों से जितना दूर रख सके रखें इससे कुछ हद तक आँखों को सुरक्षित रखा जा सकता हैं। जब भी मोबाइल इस्तेमाल करें इस बात का ज़रूर ध्यान रखें कि मोबाइल फोन आँखों के एकदम पास में न हो।
  • रात में ज्यादा देर तक मोबाइल फोन इस्तेमाल न करें। देर रात तक फोन यूज करने से नींद खराब होती है और बाद में ये आदत-सी बन जाती है। इससे आँखों के नीचे Dark Circle, इत्यादि होने के साथ आईसाइट पर भी बुरा असर पड़ता है।
  • मोबाइल का इस्तेमाल करते समय 20 मिनट के बाद कम से कम 20 सेकंड का ब्रेक जरूर ले इससे आँखों का राहत मिलेगी।
  • अपने मोबाइल का प्रयोग करते समय इसकी Brightness जितना हो सके कम रखें। इससे आँखों पर प्रेशर कम पड़ेगा।
  • जितना हो सके बिना बजह के मोबाइल का इस्तेमाल न करें और हो सके तो Eye Protect Glass (चश्मा) का प्रयोग जरूर करें। इससे स्क्रीन से निकलने वाली नीली रोशनी से बचा जा सकता है।
  • मोबाइल और कंप्यूटर की डिस्प्ले से हानिकारक ब्लू किरणें निकलती हैं, जो हमारी आंखों को नुकसान पहुँचाती है। इसलिए आपको ब्लू लाइट ब्लॉकिंग चश्मा का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।
  • ब्लू-रे ब्लॉकिंग टेक्नोलॉजी से युक्त चश्मा को मंगाने के लिए लिंक पर क्लिक करें और घर से ही अमेजॉन से ऑनलाइन अभी ऑर्डर करें।
  • अपनी आँखों को हमेशा और लंबे समय तक झपकाने से आपको अपनी आँखें नम बनाए रखने में मदद मिलेगी। नतीजतन, आपको बहुत जलन का अनुभव नहीं होगा और इसके साथ आप बेहतर फोकस भी कर सकेंगे।
  • डेस्कटॉप पीसी का उपयोग करते समय अक्सर आँखों को ब्लिंकिंग की सिफारिश की जाती है, लेकिन स्मार्टफोन के लिए यह और भी महत्वपूर्ण है। यह स्क्रीन रेडिएशन के निगेटिव इफेक्‍ट को भी कम करता है।
  • स्मार्टफोन के साथ, 20-20-20 रूल को फालो करें। मूल रूप से इसका मतलब है कि जब आप लगातार अपने स्मार्टफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो आपको हर 20 मिनट में 20 सेकंड का ब्रेक लेना चाहिए और वह देखें जो कि आप से कम से कम 20 फीट दूर है।

अनुशंसित लेख