Important Nutrients In Pregnancy: प्रेगनेंसी में ५ जरुरी पोषक तत्त्व

Important Nutrients In Pregnancy: प्रेगनेंसी में ५ जरुरी पोषक तत्त्व Important Nutrients In Pregnancy: प्रेगनेंसी में ५ जरुरी पोषक तत्त्व

Swati Bundela

17 Sep 2022

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को अधिक पोषक तत्वो की जरूरत पड़ती है। इनकी पूर्ति गर्भवती महिलाओं के शरीर में होना आवश्यक है। शरीर में इनकी कमी होने पर गर्भवती महिला के साथ-साथ गर्भ में पल रहे बच्चे के स्वास्थ्य पर भी असर पड़ता है। आइए जानते हैं उन खास पोषक तत्वों के बारे जिसका सेवन प्रेग्नेंसी के दौरान हर महिला को
करना चाहिए -

1. फोलिक एसिड (Folic Acid)

फोलिक एसिड गर्भवती महिलाओं के लिए एक आवश्यक पोषक तत्व है। यह महिलाओं में न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट को कम करने में सहायक होता है। यह तत्व गर्भ में पल रहे बच्चे के मानसिक विकास के लिए भी जरूरी है। इसकी कमी की पूर्ति के लिए आप खट्टे फल, बीन्स, हरी सब्जियों, पालक, मूंगफली आदि का सेवन करें। हालांकि इसकी कमी की पूर्ति के लिए बाजार में सप्लीमेंट भी उपलब्ध होते हैं जो आपको डाक्टर की सलाह के अनुसार ही लेने चाहिए।

2. कैल्शियम (Calcium)

यह तत्व हमारी हड्डियों को मजबूत बनाता है। मां के साथ-साथ गर्भ में पल रहे बच्चे की हड्डियां मजबूत हो उसके लिए कैल्शियम बहुत आवश्यक है। अक्सर डॉक्टर भी गर्भवती महिलाओं को कैल्शियम की पूर्ति के लिए गोली और कुछ अन्य दवाएं देते हैं। कैलशियम की कमी के लिए आप दूध, चीज, दही, पालक आदि का सेवन करें।

3. विटामिन डी (Vitamin D)

अगर गर्भवती महिलाओं में विटामिन डी की कमी होती है तो इसका सीधा असर गर्भ में पल रहे बच्चे के हड्डियों, दांतो और फेफड़ो के विकास पर पड़ता है। मछली, अंडा, दूध जूस आदि का सेवन कर विटामिन डी की कमी को दूर किया जा सकता है।

4. आयरन (Iron)

आयरन हमारे शरीर में खून बनाने का काम करता है। अगर गर्भवती महिलाओं में आयरन की कमी होती है तो गर्भ में पल रहे बच्चे तक ऑक्सीजन सही मात्रा में नही जा पाता है। गर्भवस्था के दौरान महिलाओं को रोजाना 27 से 30 मिलीग्राम आयरन की आवश्यकता होती है। आयरन की पूर्ति के लिए मीट, दाल, हरी सब्जियां आदि फायदेमंद होते है।

5. प्रोटीन (Protein)

प्रोटीन हमारे शरीर को ताकत देने में सहायक होता है। इसकी कमी के कारण गर्भवती महिलाओं में कमजोरी आ सकती है। दाल, फल, अंडा, मछली आदि को अपने खाने में शामिल करके प्रोटीन की कमी को दूर किया जा सकता है।

अनुशंसित लेख