Knee Arthritis Treatment: जाने घुटनों के का अर्थराइटिस इलाज कैसे होता है?

Swati Bundela
13 Oct 2022
Knee Arthritis Treatment: जाने घुटनों के का अर्थराइटिस इलाज कैसे होता है?

आज के समय में हमारा लाइफ़स्टाइल काफी भागदौड़ वाला हो चुका है। हमें अपनी सेहत के लिए बहुत कम समय मिलता है जिस कारण हमें बहुत सी बीमारियों का सामना करना पड़ता है आजकल एक रोग बहुत ही कॉमन हो चुका है। जिसको हम गठिया या अर्थराइटिस बोलते हैं। जब गठिया घुटनों में होता है तब हम इसे घुटनों का अर्थराईटिस कहते हैं। यह रोग एक से दूसरी पीढ़ी ऐसे आगे जारी रहता है।

क्या होता है घुटनों का अर्थराईटिस?

घुटनों में गठिया तब होता है जब आपके घुटनों में लंबे समय तक दर्द जारी रहे आपको घुटनों की मूवमेंट यानी घुटनों हिलाते समय परेशानी आए और आपके पैरों में तिरछापन महसूस होने लगे। गठिए का दर्द बहुत तेज होता है और सूजन भी आ जाती है। इसको आज आस्टियो अर्थराईटिस कहां जाता है।

घुटनों के अर्थराईटिस का इलाज

एक्सरसाइज करें

घुटनों के गठिए का सबसे सही उपाय है कि आप एक्सर्साइज़ करें।यह दर्द को दूर करने में मदद करता है आपकी मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। इससे आपकी जोड़ मजबूत होती हैं और उन मैं सुधार आने लगता है।

थेरेपी

थेरेपी  घुटनों के गठिया में बहुत मदद करती है। इसमें दवाई के साथ आपको थेरेपी और कसरत भी करनी पड़ती है। कई ऐसी थेरेपी भी उपलब्ध है जो बिना दवाई के आपको घुटनों के दर्द से मुक्ति दिला सकती है। इसे आपकी घुटनों की  मांसपेशियां मजबूत होती हैं और आपका शरीर तरोताजा हो जाता है।

मसाज

घुटनों के गठिए में जब आप घुटनों की मसाज करते हैं तो यह बहुत फायदेमंद होती है इसको करने से जोड़ो में लचीलापन और मजबूती आती है।

वजन कम करना

जब आप घुटनों में गठिए रोग से ग्रस्त होते हो तो  आपको जोड़ो में दर्द की समस्या आती है। इसलिए आप अपने वजन को बढ़ने ना दे। इससे आपके घुटनों पर ज्यादा भार पड़ता है। इस आपके घुटनों में ज्यादा दर्द होने की संभावना बनी रहती है।इस लिए आप अपने वजन को नियंत्रित रखे और संतुलित आहार खाए।

अनुशंसित लेख